टूटे हुए ऑफिस को देख फिर फूटा कंगना का गुस्सा, कहा- ये बलात्कार है मेरे सपनों का, जो कभी मंदिर था उसे कब्रिस्तान बना दिया

चैतन्य भारत न्यूज

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत लगातार मुंबई सरकार पर हमला बोल रही हैं। उनके मुंबई स्थित ऑफिस को बीएमसी द्वारा तोड़े जाने के बाद कंगना ने उद्धव ठाकरे की सरकार पर तीखा हमला बोला था। बीएमसी के इस कार्रवाई के 8 दिन बाद अब कंगना ने अपने ऑफिस की तस्वीरें ट्विटर पर शेयर कीं। उन्होंने 3 ट्वीट किए और कहा, ‘ये बलात्कार है, मेरे सपनों का, मेरे हौसलों का, मेरे आत्मसम्मान का और मेरे भविष्य का।’


कंगना ने लिखा है कि यें बलात्कार है, मेरे सपनों का, मेरे हौसलों का, मेरे आत्मसम्मान का और मेरे भविष्य का।


आगे उन्होंने एक शेर लिखा है। उन्होंने लिखा है- एक उम्र बीत जाती है घर बनाने में और तुम आह भी नहीं करते बस्तियां जलाने में।


कंगना ने लिखा कि यह देखो क्या से क्या कर दिया मेरे घर को क्या यह बलात्कार नहीं?

उन्होंने लिखा कि जो कभी मंदिर था उसे क़ब्रिस्तान बना दिया, देखो मेरे सपनों को कैसे तोड़ा, यह बलात्कार नहीं?

कंगना को 2 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ

जानकारी के मुताबिक, बीएमसी की कार्रवाई से कंगना को 2 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। बता दें कंगना ने इस तीन मंजिला आलिशान ऑफिस को बनवाने करीब 48 करोड़ रुपए खर्च किए थे। एक्ट्रेस ने 10 सितंबर को कहा था ‘मैंने 15 जनवरी को ऑफिस की ओपनिंग की थी। इसके तुरंत बाद कोरोना महामारी फैल गई। ज्यादातर लोगों की तरह तब से मैंने भी कोई काम नहीं किया। मेरे पास इसे फिर से बनवाने के पैसे नहीं हैं। मैं इसी खंडहर से काम करूंगी। इसे एक महिला के ऐसे ऑफिस के रूप में रखूंगी, जिसे उसकी आवाज उठाने की वजह से तबाह कर दिया गया।’

Related posts