उद्धव ठाकरे पर फिर फूटा कंगना का गुस्सा, कहा- तुम कुछ नहीं हों सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो

चैतन्य भारत न्यूज

बुधवार को बीएमसी ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के मुंबई के पाली हिल इलाके में स्थित दफ्तर पर बुलडोजर चला दिया जिससे उनका 48 करोड़ का दफ्तर पूरी तरह तहस-नहस हो गया। इस एक्शन के बाद से कंगना रनौत का लगातार शिवसेना और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर गुस्सा फूट रहा है। अब कंगना ने एक और ट्वीट कर उद्धव ठाकरे के साथ ही कांग्रेस को भी निशाने पर लिया है और शिव सेना को सोनिया सेना बताया है।

बीएमसी ने कंगना रनौत के मुंबई स्थित घर पर बुलडोजर चलाया था। इस एक्शन के बाद से कंगना रनौत लगातार शिवसेना और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर भड़क रही हैं। अब कंगना ने अपने लेटेस्ट ट्वीट में उद्धव ठाकरे के साथ ही कांग्रेस को भी निशाने पर लिया है और शिव सेना को सोनिया सेना बताया है।

कंगना ने शिवसेना को कहा सोनिया सेना

कंगना रनौत ने ट्वीट में लिखा कि, ‘जिस विचारधारा पर श्री बाला साहेब ठाकरे ने शिव सेना का निर्माण किया था आज वो सत्ता के लिए उसी विचारधारा को बेच कर शिव सेना से सोनिया सेना बन चुके हैं, जिन गुंडों ने मेरे पीछे से मेरा घर तोड़ा उनको सिविक बॉडी मत बोलो, संविधान का इतना बड़ा अपमान मत करो।’


कंगना उद्धव ठाकरे पर हमला करते हुए दूसरे ट्वीट में लिखती हैं- ‘तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुंह बंद करोगे मगर मेरी आवाज मेरे बाद सौ फिर लाखों में गूंजेगी, कितने मुंह बंद करोगे? कितनी आवाजें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे तुम कुछ नहीं हों सिर्फ़ वंशवाद का एक नमूना हो।’

कंगना ने अपने एक ट्वीट में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री रहे देवेंद्र फडणवीस की भी तारीफ की है। कंगना ने लिखा कि- ‘चुनाव हारने के बाद शिवसेना ने शर्मनाक तरीके से मिलावट सरकार बनाई और सोनिया सेना में तब्दील हो गई।’

कंगना की उद्धव ठाकरे को चुनौती

बता दें, बीएमसी के दफ्तर तोड़ने के बाद बुधवार को कंगना ने एक वीडियो जारी किया था। इस ट्वीट में उन्होंने उद्धव ठाकरे को सीधे तौर पर चुनौती दी थी। कंगना ने कहा था- आज मेरा घर टूटा है, कल उद्धव ठाकरे का घमंड टूटेगा। ये वक्त का पहिया है, याद रखना, हमेशा एक जैसा नहीं रहता। मुझे लगता है कि तुमने मुझ पर बहुत बड़ा एहसान किया है। क्योंकि मुझे पता तो था कि कश्मीरी पंडितों पर क्या बीती होगी। आज मैंने महसूस किया है और आज मैं इस देश को वचन देती हूं कि मैं सिर्फ अयोध्या पर ही नहीं, कश्मीर पर भी एक फिल्म बनाऊंगी। उद्धव ठाकरे ये जो क्रूरता और ये जो आतंक है।अच्छा हुआ कि ये मेरे साथ हुआ। क्योंकि इसके कुछ मायने हैं।

Related posts