कानपुर एनकाउंटर: 8 पुलिसवालों की मौत के जिम्मेदार विकास दुबे के संपर्क में थे 3 पुलिसवाले, सस्पेंड

चैतन्य भारत न्यूज

कानपुर एनकाउंटर मामले में एक अहम खुलासा हुआ है। 8 पुलिसकर्मियों की मौत का जिम्मेदार शातिर बदमाश विकास दुबे के संपर्क में चौबेपुर पुलिस थाने के दो दारोगा और एक सिपाही थे। इसका खुलासा इन लोगों की कॉल डिटेल के जरिए हुआ।

जानकारी के मुताबिक, चौबेपुर पुलिस थाने के दारोगा कुंवर पाल, कृष्ण कुमार शर्मा और सिपाही राजीव विकास दुबे से लगातार संपर्क में बने हुए थे। अब एसएसपी ने इन तीनों को सस्पेंड कर दिया है और मामले की जांच शुरू हो गई है।

विकास का करीबी पकड़ा गया

बता दें रविवार को विकास दुबे का करीबी दयाशंकर अग्निहोत्री पकड़ा गया था। पकड़े जाने के बाद उसने कबूल किया था कि विकास दुबे ने ही पुलिसवालों पर गोली चलाई थी। उसने बताया था कि, रेड की खबर विकास को थाने से पता चली थी, जिसके बाद विकास ने 25-30 लोगों को बुलाया था। यह सभी लोग हथियारों से लैस थे। इस खुलासे के बाद ही पुलिस ने अन्य पुलिसकर्मियों की कॉल डिटेल्स की तलाश करना शुरू कर दी।

अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर विकास

8 पुलिसवालों की मौत का जिम्मेदार विकास दुबे की तलाश में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। साथ ही पुलिस उसकी संपत्ति और बैंक खातों पर भी नजर बनाए हुए है। हालांकि, अब तक विकास का कुछ पता नहीं चल सका है।

क्या है पूरा मामला

बीते गुरुवार की रात को कानपुर देहात के बिकरू गांव में पुलिस ने विकास को पकड़ने के लिए दबिश दी थी। जैसे ही फोर्स गांव के बाहर पहुंची तो वहां जेसीबी लगा दी गई। इस वजह से फोर्स की गाड़ी गांव के अंदर नहीं जा सकी। इस वजह से पुलिस टीम को घर से कुछ दूर पहले अपनी गाड़ी को छोड़ना पड़ा। तभी पहले से ही घात लगाए बदमाशों ने फायरिंग करना शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस की ओर से भी जवाबी फायरिंग की गई। लेकिन बदमाश ऊंचाई पर थे जिसके कारण वे बच गए। इस वजह से पुलिसकर्मियों को गोलियां लगी है। 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए।

कौन है विकास दुबे

विकास दुबे वही अपराधी है, जिसने 2001 में राजनाथ सिंह सरकार में मंत्री का दर्जा पाए संतोष शुक्ला की थाने में घुसकर हत्या की थी। हस्ट्रीशीटर विकास दुबे के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 (हत्‍या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज है।

यह भी पढ़े

 कानपुर: बदमाश को पकड़ने गई पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग, DSP समेत 8 शहीद

Related posts