फलों-सब्जियों की न्यूनतम कीमत तय करने वाला पहला राज्य बना केरल, टमाटर 8 तो भिंडी 20 रुपए किलो

चैतन्य भारत न्यूज

केरल सरकार ने सब्जियों के लिए आधार मूल्य तय कर दिया है। इसी के साथ केरल देश का पहला राज्य बन गया है, जहां किसानों के लिए फल-सब्जियों के न्यूनतम दाम तय किए गए हैं। सब्जियों का यह न्यूनतम या आधार मूल्य, उनकी उत्पादन लागत से 20 प्रतिशत अधिक होगा।

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन (Pinrai Vijayan) ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि, ‘यह योजना एक नवंबर से प्रभावी होगी। योजना की ऑनलाइन शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि, यह पहला मौका है जब केरल में उत्पादित 16 किस्मों की सब्जियों के लिए आधार कीमत तय की गई थी। किसी भी राज्य द्वारा यह पहली ऐसी पहल है जो किसानों को राहत और सहायता प्रदान करेगी। इससे उनकी आमदनी में भी इजाफा होगा। उनके नुकसान की आशंका कम होगी। सब्जियों का आधार मूल्य उनकी उत्पादन लागत से 20 फीसदी ज्यादा रखा जाएगा।’

एक सरकारी विज्ञप्ति में मुख्यमंत्री के हवाले से कहा गया है कि सब्जियों का आधार मूल्य, उनकी उत्पादन लागत से 20 प्रतिशत अधिक होगा। यहां तक कि अगर बाजार मूल्य इससे नीचे चला जाता है, तो किसानों से उनकी उपज को आधार मूल्य पर खरीदा जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सब्जियों को गुणवत्ता के अनुसार वर्गीकृत किया जाएगा और आधार मूल्य उसी के हिसाब से तय किया जाएगा। देश भर के किसान संतुष्ट नहीं हैं… लेकिन पिछले साढ़े चार साल से हमने उनका समर्थन किया है। सरकार ने राज्य में कृषि को विकसित करने के लिए कई लक्षित पहल की हैं।’ मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि केरल में पिछले साढ़े चार साल में सब्जी उत्पादन दोगुना हो गया है यानि यह उत्पादन सात लाख टन से बढ़कर 14.72 लाख टन हो गया है।

Related posts