फोटोग्राफी को ऑक्सीजन मानते हैं उद्धव ठाकरे, देखें उनके द्वारा खींची गईं ये कमाल की तस्वीरें

uddhav

चैतन्य भारत न्यूज

मुंबई. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। बता दें उद्धव ठाकरे परिवार के पहले ऐसे सदस्य हैं जो मुख्यमंत्री पद की कमान संभालेंगे। उद्धव को राजनीतिक विरासत उनके पिता स्व. बाला साहेब ठाकरे से मिली है। उद्धव को राजनीति से ज्यादा लगाव फोटोग्राफी से है। वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर रहे उद्धव ठाकरे 40 की उम्र तक राजनीतिक गलियारे से काफी दूर माने जाते थे।


उद्धव को फोटोग्राफी से इस कदर लगाव है कि उन्होंने पुणे में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा था- ‘फोटोग्राफी मेरे लिए ऑक्सीजन की तरह है। कोई कुछ भी कहे मैं फोटोग्राफी नहीं छोड़ सकता हूं।’ बचपन से ही उद्धव को फोटोग्राफी का शौक है। उन्हें वाइल्ड लाइफ और नेचर फोटोग्राफी करना बेहद पसंद है। मुंबई की जहांगीर आर्ट गैलरी में अक्सर ही उद्धव की फोटो एग्जीबिशन होती रहती है। इन प्रदर्शनियों से जो आय होती है उसे उद्धव किसानों और जरूरतमंदों की सहायता के लिए दान कर देते हैं।

उद्धव ने अपनी तस्वीरों के संकलन को ‘महाराष्ट्र देशा’ नाम की एक किताब के जरिए सभी के सामने रखा। इस किताब में महाराष्ट्र के ही 27 बड़े किलों की एरियल व्यू की तस्वीर है। साथ ही, इस किताब में राज्य के प्रमुख मंदिरों और हाजी अली दरगाह की तस्वीरें भी हैं।

उद्धव को सबसे ज्यादा एरियल फोटोग्राफी करना पसंद है। उन्होंने आसमान से किलों की तस्वीरें खींचने के लिए बाकायदा रक्षा मंत्रालय से क्लीयरेंस लिया था। इसके बाद ही उद्धव ने सभी तस्वीरों को हेलिकॉप्टर से काफी ऊंचाई से क्लिक किया था। उद्धव ने महाराष्ट्र की मशहूर वारी यात्रा की एरियल फोटोग्राफ भी खींची हैं।

न सिर्फ भारत बल्कि उद्धव ने विदेशों में जाकर भी फोटोग्राफी की है। साल 2008 में उद्धव ने इंफ्रारेड तकनीक का इस्तेमाल करते हुए कनाडा के ‘हडसन बे’ में करीब शून्य डिग्री तापमान पर पोलर बियर और कम्बोडिया के मंदिरों की तस्वीरें खींची हैं। कुछ दिन पहले ही उद्धव ने एक इंटरव्यू के दौरान अपनी इच्छा जाहिर करते हुए कहा था कि, वह विश्व के सक्रिय ज्वालामुखी, अंटार्कटिक प्रदेश और माउंट एवरेस्ट पर्वत श्रृंखलाओं की तस्वीरें भी अपने कैमरे में कैद करना चाहते हैं।

इसके अलावा उद्धव को म्यूजिक सुनना भी अच्छा लगता है। वह सबसे ज्यादा भक्ति संगीत और गजल सुनना पसंद करते हैं। उद्धव को ड्राइविंग और तैराकी का भी शौक है। 27 जुलाई 1960 को मुंबई में जन्मे उद्धव ने दादर के बालमोहन विद्यामंदिर से पढ़ाई पूरी करने के बाद सर जेजे स्कूल ऑफ आर्ट से ग्रेजुएशन किया है।

साल 2002 में बीएमसी के चुनावों में शिवसेना को जोरदार सफलता मिली और इसका श्रेय उद्धव ठाकरे को दिया गया। साल 2003 जनवरी में उद्धव को शिवसेना का कार्यकारी अध्यक्ष बना दिया गया। उद्धव के परिवार में उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे के अलावा 2 बेटे आदित्य और तेजस हैं। बड़े बेटे आदित्य ने अपने दादा और पिता की तरह ही राजनीति में कदम रखा। वह शिवसेना की युवा संगठन युवा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। साथ ही मुंबई की वर्ली सीट से विधायक हैं।

ये भी पढ़े…

महाराष्ट्र : पत्नी संग राज्यपाल से मिले उद्धव ठाकरे, सीएम पद के लिए लेंगे शपथ

उद्धव ठाकरे बनेंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री! पार्टी ने कहा आदित्य नहीं योग्य उम्मीदवार 

महज 80 घंटे ही मुख्यमंत्री रहे फडणवीस, इन मुख्यमंत्रियों का कार्यकाल भी रहा सबसे कम

 

Related posts