जानिए बीजेपी और कांग्रेस के घोषणा पत्र में क्या है अंतर…

चैतन्य भारत न्यूज।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने आज ‘संकल्प पत्र’ के नाम से अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस दौरान अमित शाह ने मोदी सरकार के पांच साल के कार्यकाल का लेखा जोखा पेश किया।  राजनाथ सिंह ने कहा संकल्प पत्र को मल्टी डायमेंशनल बनाने के लिए 12 श्रेणियों में भी उसे विभाजित किया था। उन्होंने कहा इस संकल्प पत्र के माध्यम से हम नए भारत के निर्माण में 130 करोड़ देशवासियों की आकांक्षाओं को विजन डॉक्यूमेंट के रूप में पेश कर रहे हैं।

बता दें कुछ दिनों पहले ही कांग्रेस ने अपना घोषणा पत्र जारी किया है। दोनों ही पार्टियों ने अपने मेनिफेस्टो में देश के मुख्य मुद्दों को शामिल किया है।

आइए जानते हैं बीजेपी और कांग्रेस के घोषणापत्र में क्या अंतर है।

किसानों के मुद्दे पर…

बीजेपीः पार्टी ने कहा है किसान क्रेडिट कार्ड से 1 लाख तक का लोन लेने पर 5 साल तक कोई ब्याज नहीं लगेगा। सभी किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ मिलेगा। छोटे और सीमांत किसानों को 60 साल के बाद पेंशन की सुविधा देंगे। जमीन का रिकॉर्ड डिजिटल होगा।

कांग्रेसः किसान अगर लोन न चुका पाए तो उस पर आपराधिक मामला दर्ज नहीं किया जाएगा, सिविल मामला बनेगा। किसानों के लिए एक अलग से बजट लाएंगे। मनरेगा में 100 दिनों से बढ़ाकर 150 दिन करेंगे।

राष्ट्र की सुरक्षा मामले में …

बीजेपी देश की सुरक्षा के साथ समझौता न करते हुए आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति जारी रहेगी। जम्मू-कश्मीर में धारा 370 और 35ए को खत्म करेंगे। यह धारा जम्मू-कश्मीर के विकास में बाधा है। केंद्रीय सुरक्षाबलों को तकनीकी आधार पर मजबूत करके आधुनिकीकरण दिशा में आगे बढ़ेंगे।

कांग्रेस-  हमारी सरकार आने पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 124ए जो देशद्रोह के अपराध को परिभाषित करती है। को खत्म किया जाएगा। साथ ही आफस्पा (सशस्त्र बल विशेष अधिकार कानून 1958) में संशोधन किया जाएगा।

रोजगार के मुद्दे पर…

बीजेपीः 20 हजार करोड़ के सीड स्टार्टअप फंड के जरिए स्टार्टअप को प्रोत्साहित करेंगे। देश के 22 बड़े सेक्टरों में रोजगार के नए अवसर पैदा हों, इसके लिए मदद करेंगे। रोजगार के लिए नई योजनाएं लेकर आएंगे। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत अभी 17 करोड़ से ज्यादा उद्यमियों को कर्ज दिया जा चुका है। इसे 30 करोड़ तक ले जाने का प्रयास करेंगे।

कांग्रेसः कांग्रेस ने घोषणा पत्र में वादा किया है कि मार्च 2020 तक 22 लाख सरकारी रोजगार उपलब्ध कराएंगे, साथ ही 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायत में रोजगार दिलाएंगे। साथ ही राहुल गांधी ने कहा है कि भारत के युवाओं को बिजनस खोलने के लिए किसी की परमिशन नहीं लेनी पड़ेगी।

गरीब परिवारों के लिए 

बीजेपीः  देश के हर गरीब परिवारों के लिए पक्का मकान उपलब्ध कराएंगे, साथ ही एलपीजी गैस सिलेंडर मुहैया कराएंगे। देश के सभी घरों में बिजली-पानी और शौचालय की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी।

कांग्रेस- राहुल गांधी ने वादा किया है कि  न्याय (न्यूनतम आय योजना) के जरिए हर साल 20 प्रतिशत गरीब परिवारों को  72 हजार रुपए दिए जाएंगे। ये पैसा सीधे उनके अकाउंट में डाला जाएगा।

ये भी पढ़ें…

बीजेपी ने जारी किया ‘संकल्प पत्र’, अमित शाह बोले- 5 सालों का कार्यकाल स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा

कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र, राहुल गांधी ने दिया नारा- ‘गरीबी पर वार 72 हजार’

Related posts