कोरोना वायरस के डर से केरल में काम छोड़ गांव लौटा शख्स, घर पहुंचा तो खुली 1 करोड़ की लॉटरी

lottery

चैतन्य भारत न्यूज

कोलकाता. देशभर में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए लोग अपने-अपने गांव लौट रहे हैं। ऐसे ही एक मजदूर केरल में अपना काम बंद कर बंगाल स्थित अपने गांव लौटा तो उसकी किस्मत ही चमक गई। गांव आते ही एक लॉटरी ने उस शख्स को करोड़पति बना दिया।

मुश्किल घड़ी में ख़रीदा लॉटरी टिकट

यह मामला पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से सामने आया है। यहां मिर्जापुर गांव के इजारुल शेख केरल में काम करते थे। केरल में कोविड 19 के मामले बढ़ने के बाद इजारुल अपने गांव वापस लौट गए। उनका घर मिर्जापुर में बेलदंगा पुलिस स्टेशन के पास है। गांव लौटने के बाद इजारुल बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि वह आगे क्या करेंगे? उनका घर कैसे चलेगा? यह सभी सवाल उनके दिमाग में चल रहे थे। ऐसी मुश्किल घड़ी में इजारुल ने एक लॉटरी टिकट खरीदा था। इस लॉटरी टिकट ने उनकी जिंदगी बदल दी। रविवार को एक पुलिस अधिकारी ने इस बारे में जानकारी दी कि इजारुल ने एक करोड़ रुपए लॉटरी जीती है।

पुलिस से किया सुरक्षा देने का आग्रह

बता दे इजारुल कारपेंटर हैं। रोजाना मजदूरी कर वे 1000-1500 रुपए तक कमा लेते हैं। इजारुल के परिवार में माता-पिता, पत्नी और एक बेटी है। उनके पिता रिक्शा चलाते हैं। इजारुल ने लॉटरी जीतने के बाद बेलंदगा पुलिस स्टेशन के ऑफिसर इनचार्ज से मुलाकात की और उनसे आग्रह किया कि उन्हें सुरक्षा दी जाए। दरअसल, इजारुल के लॉटरी जीतने की खबर रातोंरात फैल गई और उनके घर के आसपास हजारों लोगों की भीड़ जमा हो गई थी। पुलिस ने इजारुल को हरसंभव सहायता और सुरक्षा का भरोसा दिया।

बिजनेस करना चाहते हैं

इजारुल ने बताया कि, इस रकम से वह बिजनेस शुरू करना चाहते हैं और अपने परिवार के लिए एक घर बनाना चाहते हैं। इजारुल ने पुलिस और उनके शुभ चिंतकों की सलाह पर इनामी राशि को बैंक में जमा करवा दिया है।

ये भी पढ़े…

केरल: रातोंरात करोड़पति बना दिहाड़ी मजदूर, लगी 12 करोड़ की लॉटरी

रिक्शावाले की रातोंरात पलटी किस्मत, 30 रुपए का लॉटरी टिकट खरीदकर बना 50 लाख का मालिक

Related posts