VIDEO : सीमेंट-कांक्रीट मिक्सर में छिपकर महाराष्ट्र से लखनऊ जा रहे थे 18 मजदूर, इंदौर पुलिस ने पकड़ा

चैतन्य भारत न्यूज

इंदौर. देशभर में लॉकडाउन के दौरान जगह-जगह फंसे मजदूर अपने घरों को वापस जाने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। कुछ लोग साइकिल पर तो कुछ पैदल ही अपने मूल निवास स्थान की तरफ पलायन कर रहे हैं। लेकिन हद तो तब हो गई जब कुछ मजदूरों ने अपने घरे पहुंचने के लिए कांक्रीट मिक्सर ट्रक के टैंक में छिपकर सहारा लिया। हालांकि, इन्हें मध्यप्रदेश के इंदौर में पकड़ लिया गया और सभी मजदूरों को क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया है। वहीं मिस्कर को जब्त कर कार्रवाई की जा रही है।


जानकारी के मुताबिक, ये सभी मजदूर सीमेंट-कांक्रीट मिक्सर वाले चार पहिया गाड़ी में छिपकर महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश के लखनऊ जा रहे थे। शनिवार को इंदौर शहर से करीब 35 किलोमीटर दूर पंथ पिपलई गांव में नियमित जांच के तैनात पुलिस को जब मामला संदिग्ध लगा तो उन्होंने सीमेंट-कांक्रीट मिक्सर वाले ट्रक को रोका। जब ड्राइवर से पूछताछ की गई तब जाकर हकीकत सामने आई। पुलिस ने जब टैंक को खोलने को कहा तो उसमें से एक-एक करके 18 लोग निकले। फिर पुलिस ने 14 प्रवासी मजदूरों समेत 18 लोगों को क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया।

ट्रैफिक पुलिस के सूबेदार (उपनिरीक्षक स्तर का पुलिस अधिकारी) अमित कुमार यादव ने बताया कि, संदेह होने पर जब हमने सीमेंट-कांक्रीट मिक्सर के खुले ढक्कन से झांक कर देखा, तो इसमें एक साथ 18 लोगों को पाकर हमारी आंखें खुली की खुली रह गयीं। इनमें 14 प्रवासी मजदूर और ट्रक मालिक के चार कर्मचारी शामिल हैं। यादव ने बताया, ‘शुरुआती पूछताछ में मजदूरों ने बताया कि वे मूलत: यूपी के रहने वाले हैं और लॉकडाउन के चलते महाराष्ट्र में कल-कारखाने बंद होने के चलते उनके सामने पिछले कई दिन से आजीविका का संकट था। इसलिए वे किसी भी तरह लखनऊ पहुंचना चाहते थे।’

इंदौर के डीएसपी उमाकांत चौधरी ने कहा कि, ‘मजदूर महाराष्ट्र से लखनऊ की यात्रा कर रहे थे। ट्रक को पुलिस स्टेशन भेज दिया गया है। इस मामले में एक एफआईआर दर्ज कर ली गई है। पुलिस सभी लोगों से पूछताछ कर रही है।’

Related posts