अधूरी ही रह गई सुषमा स्वराज की यह अंतिम इच्छा…

sushma swaraj,sushma swaraj pass away,sushma swaraj death,sushma swaraj political journey,sushma swaraj and geeta,sushma swaraj last wish,sushma swaraj ki antim vidai, sushma swaraj daughter

चैतन्य भारत न्यूज

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की दिग्गज नेता और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन से पूरा देश स्तब्ध है। वहीं इंदौर के मूक बधिर संगठन में रहने वाली गीता की आंखों से आंसू नहीं थम रहे हैं क्योंकि सुषमा स्वराज उनके लिए मां जैसी थीं। बता दें पाकिस्तान की एक सामाजिक संस्था में बचपन से रह रहीं गीता के माता-पिता के भारत में होने की जानकारी मिलने पर सुषमा उनके माता-पिता से मिलाने का वादा करके भारत लेकर आईं थीं।

sushma swaraj,sushma swaraj pass away,sushma swaraj death,sushma swaraj political journey,sushma swaraj and geeta,sushma swaraj last wish,sushma swaraj ki antim vidai, sushma swaraj daughterअक्टूबर 2016 को गीता दिल्ली आईं और फिर उन्हें इंदौर की स्कीम नंबर-71 स्थित एक मूक-बधिर संगठन को सौंपा गया। तब से वह यहीं पर हैं। वहीं सुषमा की बड़ी इच्छा थी कि कोई योग्य युवक उनका हाथ थाम ले और जल्द से जल्द उनकी शादी हो जाए। जानकारी के मुताबिक, गीता के लिए कई रिश्ते भी आए लेकिन कही बात बन नही पाई। फिर मंगलवार की रात अचानक सुषमा इस ख्वाहिश को अपने दिल में लिए दुनिया को अलविदा कह गईं।

sushma swaraj,sushma swaraj pass away,sushma swaraj death,sushma swaraj political journey,sushma swaraj and geeta,sushma swaraj last wish,sushma swaraj ki antim vidai, sushma swaraj daughter

sushma swaraj,sushma swaraj pass away,sushma swaraj death,sushma swaraj political journey,sushma swaraj and geeta,sushma swaraj last wish,sushma swaraj ki antim vidai, sushma swaraj daughter

बता दें गीता अभी इंदौर के हरनाम लक्ष्मी खुशीराम बघिर बालक छात्रावास में रह रही हैं। गीता को इंदौर लाने के पीछे सुषमा की सोच थी कि यहां वह ज्यादा सुरक्षित रहेंगी। शिवराज सिंह चौहान जब तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे वह भी गीता की खेर-खबर पूछते रहे। गीता बोल और सुन नहीं सकती हैं। 10-11 साल की उम्र में गीता पाकिस्तानी रेंजर्स को सरहद पार मिली थीं। इसके बाद सुषमा गीता को भारत लेकर आईं।

ये भी पढ़े…

सुहागन के जोड़े और भाजपा के झंडे में लिपटीं अपने अंतिम सफर पर निकलीं सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज के निधन से गमगीन हुआ बॉलीवुड, अमिताभ और हेमा समेत इन सितारों ने व्यक्त किया दुःख

सबसे कम उम्र की कैबिनेट मंत्री थीं सुषमा स्वराज, जानिए उनका राजनीतिक सफर

 

Related posts