पीएम मोदी को लेकर राहुल के आपत्तिजनक बयान पर लोकसभा में हंगामा, सांसदों में हुई धक्का-मुक्की

loksabha

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. शुक्रवार को लोकसभा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर जमकर हंगामा हुआ। हंगामा इतना ज्यादा बढ़ गया कि मामला धक्का-मुक्की तक आ पहुंचा।



दरअसल सदन में केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने इस मुद्दे को उठाते हुए राहुल गांधी की निंदा की, जिसके बाद कांग्रेस के सांसद उठे और विरोध जताने लगे। इस पर सत्तापक्ष के सांसद भी उठे और कांग्रेस सांसदों का विरोध करने लगे। विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों पक्ष के सांसद धक्का-मुक्की करने लगे। हंगामे के दौरान पक्ष और विपक्ष के कुछ सदस्यों ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला के सामने नारेबाजी भी की। इसके बाद स्पीकर ने लोकसभा की कार्यवाही को स्थगित कर दिया।

क्या बोले केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन?

प्रश्नकाल के दौरान स्पीकर बिरला ने राहुल गांधी को चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना से संबंधित उनका पूरक प्रश्न पूछने के लिए कहा। इसके बाद डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि, ‘राहुल गांधी के प्रश्न का उत्तर देने से पहले मैं प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ उनके एक बयान का उल्लेख करना चाहूंगा और उसकी निंदा करना चाहूंगा जिसमें उन्होंने कहा था कि छह महीने बाद देश के युवा प्रधानमंत्री को डंडे मारेंगे।’

हर्षवर्धन के सामने आ गए कांग्रेस नेता

इसके बाद कांग्रेस के सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। तमिलनाडु से कांग्रेस सदस्य मनिकम टैगोर, हर्षवर्धन के बिल्कुल सामने पहुंच गए थे जिन्हें रोकने के लिए कई मंत्री और भाजपा सांसद आगे आ गए। फिर टैगोर के पीछे-पीछे केरल से कांग्रेस सदस्य हिबी इडेन भी सत्तापक्ष की ओर पहुंच गए।

हंगामे के बाद हर्षवर्धन का बयान 

लोकसभा में हुए हंगामे के बाद डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि, ‘मुझे आश्चर्य है कि राहुल गांधी के पिता खुद देश के प्रधानमंत्री थे तो ऐसी टिप्पणी वो कैसे कर सकते हैं, लोग पीएम को डंडों से पीटेंगे और देश से बाहर फेंक देंगे। हम सभी को इसकी निंदा करनी चाहिए। ‘

राहुल गांधी ने दिया था ये बयान

बता दें राहुल गांधी ने एक चुनावी रैली में कहा था कि, ‘6 महीने बाद देश के युवा पीएम मोदी को डंडे मारेंगे।’ गुरुवार को लोकसभा में पीएम ने राहुल के इस बयान का जवाब देते हुए कहा था कि, ‘मैंने भी तय कर लिया कि सूर्यनमस्कार की संख्या बढ़ा दूंगा। ताकि मेरी पीठ को मार झेलने की सहनशक्ति बढ़ जाए।’

राहुल ने किया अपने नेता का बचाव

इस बयान पर लोकसभा में हुए हंगामे के बाद राहुल ने अपनी पार्टी के सांसद मनिकम टैगोर का बचाव करते हुए कहा कि, ‘उन्होंने किसी पर हमला नहीं किया। वे वेल में जरूर गए। आप कैमरा देख सकते हैं। उनके ऊपर उल्टा हमला हुआ।’ साथ ही राहुल ने मंत्री हर्षवर्धन पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘वे मेरे सवाल का जवाब देने की बजाय दूसरी बात कर रहे थे।’

ये भी पढ़े…

लोकसभा में बोले पीएम मोदी- अगर पिछली सरकार की तर्ज पर चलते तो न मंदिर बनता न जम्मू-कश्मीर से 370 हटता

कभी राहुल गांधी को PM बनते देखना चाहती थीं दीपिका पादुकोण, पुराना Video हो रहा वायरल

युवा आक्रोश रैली में मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी, कहा- 1 साल में 1 करोड़ युवाओं ने रोजगार खोया

Related posts