श्री राम के ननिहाल से मिट्टी लेकर 800 किमी पैदल ही अयोध्या के​ लिए निकल पड़े मुस्लिम भक्त मोहम्मद फैज खान

चैतन्य भारत न्यूज

अयोध्या में भगवान राम के मंदिर निर्माण के लिए लोगों ने कई अनूठे प्रण लिए थे। न सिर्फ हिंदू बल्कि कुछ मुस्लिम लोग भी श्री राम के सच्चे भक्त है। सदियों के इंतजार के बाद आखिरकार 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन होने वाला है। जब श्री राम के इस मुस्लिम भक्त को भूमि पूजन की खबर मिली तो वह पैदल यात्रा करके अयोध्या के लिए निकल पड़ा।

हम बात कर रहे हैं मोहम्मद फैज खान की जो छत्तीसगढ़ के चंदखुरी गांव के रहने वाले है। वे अपने गांव से अयोध्या तक करीब 800 किमी की पैदल यात्रा पर निकले हैं। माना जाता है कि इसी गांव में भगवान राम की मां कौशल्या का जन्म हुआ था। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के चंद्रखुरी स्थित माता कौशल्या के मंदिर से मिट्टी लेकर मोहम्मद फैज खान अयोध्या के लिए निकले हैं। मोहम्मद फैज की चाहत है कि भगवान राम के ननिहाल की मिट्टी भी अयोध्या में बनने जा रहे भव्य मंदिर की नींव में डाली जाए।

मोहम्मद फैज खान ने एक समाचार एजेंसी को बताया, ‘मैं अपने नाम और धर्म से मुस्लिम हूं लेकिन मैं भगवान राम का भक्त हूं। अगर हम अपने पूर्वजों के बारे में पता करेंगे, तो वे हिंदू थे। उनका नाम रामलाल या श्यामलाल हो सकता है। हम सभी हिंदू मूल के हैं चाहे हम चर्च जाएं या मस्जिद।’ बता दें मोहम्मद फैज खान रोजाना 60​ किलोमीटर पैदल चलकर 5 अगस्त को अयोध्या पहुंचेंगे।

खान भगवान राम को ‘मुख्य पूर्वज’ मानते हैं। उनकी यात्रा पाकिस्तान के कवि अल्लामा इकबाल के जरिये आगे बढ़ी है, जिन्होंने यह समझाने की कोशिश की थी कि “संपूर्ण दृष्टि” वाले व्यक्ति को लगेगा कि राम वास्तव में भारत के स्वामी हैं।

बता दें कि 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन करेंगे। समारोह के लिए जिन लोगों को आमंत्रित किया जा रहा हैं उनमें बीजेपी के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी तथा मुरली मनोहर जोशी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत शामिल हैं। दूरदर्शन द्वारा इस समारोह का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

Related posts