लखनऊ: ढेरों चिताओं का वीडियो वायरल होने के बाद श्मशान घाट को टीन से चारों ओर से ढंका गया, विपक्ष ने उठाए सवाल

चैतन्य भारत न्यूज

देशभर में कोरोना वायरस बेकाबू रफ्तार से फैल रहा है। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना के कारण कोहराम मचा हुआ है। यहां अस्पतालों में बेड की तो कमी है ही और साथ ही श्मशान में भी अंतिम संस्कार करने की जगह नहीं है। बीते दिन ही सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें लखनऊ के बैकुंठ धाम श्मशान घाट में दर्जनों चिताएं एक साथ जल रही थीं। अब प्रशासन ने इस श्मशान घाट के चारों ओर अस्थाई टीन लगा दिए गए हैं, जिससे कि बाहर से अंदर का दिखाई ना दें।

जानकारी के मुताबिक, भैसाकुंड स्थित बैकुंठ धाम में ये बैरिकेडिंग लखनऊ नगर निगम द्वारा लगाई गई है। बता दें यह लखनऊ के सबसे बड़े श्मशान घाट में से एक है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच यहां लगातार अंतिम संस्कार के लिए शवों को लाया जा रहा है। हालात ये हैं कि लकड़ियां कम पड़ने लगी हैं। इसी बीच जो वीडियो सामने आया उसमे श्मशान घाट पर कई चिताएं एक साथ जलती हुई दिखीं। लोगों ने सवाल उठाए कि क्या सरकारी आंकड़ों में कोरोना से होने वाली मौतों को कम बताया जा रहा है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, आप सांसद संजय सिंह समेत तमाम लोगों ने इस पर सवाल खड़े किये हैं।


प्रियंका गांधी ने बाउंड्री कवर किए जाने का वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि, ‘उप्र की सरकार से एक निवेदन है: अपना समय, संसाधन और ऊर्जा इस त्रासदी को छुपाने, दबाने में लगाना व्यर्थ है। महामारी को रोकने, लोगों की जान बचाने, संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए ठोस कदम उठाइए। यही वक्त की पुकार है।’

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने इसका एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘अगर अस्पताल बनाने में इतनी मेहनत की होती तो श्मशान छिपाने की ज़रूरत नहीं पड़ती।’

लखनऊ में कोरोना का प्रकोप

गौरतलब है कि लखनऊ इस वक्त कोरोना के सबसे बड़ी लहर से जूझ रहा है। शहर में हर रोज 5000 के करीब कोरोना के केस आ रहे हैं। लगातार मौतों की संख्या बढ़ रही है। अस्पताल के अंदर बेड्स नहीं हैं, लोगों के टेस्टिंग के लिए लंबा इंतजार करना पड़ रहा है और अगर टेस्ट हो जा रहा है तो रिपोर्ट वक्त पर नहीं आ रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लखनऊ समेत प्रदेश के दस जनपदों में नाइट कर्फ्यू का वक्त रात के आठ बजे से सुबह सात बजे तक कर दिया गया है।

Related posts