आज है भक्तों के कष्टों को हरने वाली मां चंद्रघंटा का दिन, इन मंत्र के जाप से होंगी परेशानियां दूर

maa chandraghanta,navratri 2019,maa chandraghanta pooja vidhi,maa chandraghanta mantra

टीम चैतन्य भारत

आज नवरात्रि का तीसरा दिन है और इस दिन मां चंद्रघंटा की उपासना की जाती है। मां के सिर पर घंटे के आकार का चन्द्रमा बना होता है इसलिए इन्हे चंद्रघंटा कहा जाता है। मां चंद्रघंटा के दसों हाथों में अस्त्र-शस्त्र हैं और यह देवी हमेशा युद्ध की मुद्रा में रहती हैं। मां चंद्रघंटा का रूप सोने की तरह चमकीला होता है और वह सिंह की सवारी करती हैं। मां चंद्रघंटा का संबंध ज्योतिष में मंगल ग्रह से होता है। कहा जाता है कि, मां चंद्रघंटा की पूजा करने से भक्तों के सभी प्रकार के कष्ट हमेशा के लिए नष्ट हो जाते हैं।

मां चंद्रघंटा की पूजा विधि-

  • मां चंद्रघंटा की पूजा करते वक्त लाल रंग के वस्त्र धारण करें।
  • मां चंद्रघंटा लाल के पुष्प चढ़ाए और साथ ही उन्हें लाल चुनरी भी समर्पित करें।
  • मां चंद्रघंटा को सुगंध प्रिय है, इसलिए इनका पूजन करते समय फूल और इत्र चढ़ाएं।
  • मां चंद्रघंटा को ताम्बे का सिक्का या फिर ताम्बे की वस्तु में हलवा या फिर मेवे का भोग लगाएं।
  • मां की पूजा करते समय “ॐ अँ अंगारकाय नमः” का जाप करें।

मां की उपासना का मंत्र-

पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्रकेर्युता।
प्रसादं तनुते मह्यं चंद्रघण्टेति विश्रुता॥

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

ये भी पढ़े…

नवरात्रि के दुसरे दिन होती है मां ब्रह्मचारिणी की पूजा, विद्यार्थी जरुर करें इस मंत्र का जाप

6 अप्रैल से होगी चैत्र नवरात्र की शुरुआत, ये है घट स्थापना का शुभ मुहूर्त

Navratri 2019 : अगर नहीं कर पा रहे हैं व्रत तो जरूर करें इन मंत्रों का जाप, मां भर देंगी आपकी झोली

Related posts