सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को धमकी भरा पत्र भेजने वाला आरोपी डॉक्टर गिरफ्तार, पहले भी कर चुका है ऐसे काम

चैतन्य भारत न्यूज

नांदेड. भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को कथित तौर पर संदिग्ध लिफाफे भेजने के मामले में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी की पहचान डॉक्टर के रूप में हुई है, जिसे महाराष्ट्र के नांदेड़ से मध्य प्रदेश की आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ के लिए आरोपी को गिरफ्तार कर भोपाल लाया गया है।



सांसद प्रज्ञा ने सोमवार को शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्हें किसी ने लिफाफे में जहरीला रसायनिक पदार्थ भेजा है। इसके बाद पुलिस ने प्रज्ञा ठाकुर के आवास से तीन चार लिफाफे बरामद किए थे जिसमें से कुछ उर्दू में लिखे हुए हैं। पुलिस ने बताया कि, ‘आरोपी डॉक्टर ने प्रज्ञा सिंह ठाकुर को अक्टूबर में कथित तौर पर संदिग्ध लिफाफे और धमकी भरा पत्र भेजा था। जिसे प्रज्ञा ने 13 जनवरी की रात में खोला था। इसके बाद उन्होंने इस बारे में पुलिस को जानकारी दी।’

गुरुवार को हुआ गिरफ्तार

नांदेड के इतवारा पुलिस थाने के निरीक्षक प्रदीप ककाडे के मुताबिक, जांच के दौरान मध्यप्रदेश एटीएस को यह पता चला कि नांदेड के धानेगांव इलाके के डॉक्टर सैयद अब्दुल रहमान खान (35) ने यह संदिग्ध लिफाफे ठाकुर को भेजे थे। खान इस इलाके में अपना क्लीनिक चलाता है। आरोपी डॉक्टर पहले भी अफसरों को लिफाफे भेजने के आरोप में पकड़ा गया। मध्य प्रदेश एटीएस ने उसे गुरुवार को हिरासत में ले लिया।

पहले भी हो चुका है गिरफ्तार

प्रदीप ककाडे ने यह भी बताया कि, ‘खान पिछले तीन महीने से पुलिस के राडार पर था क्योंकि उसने पहले भी कुछ सरकारी अधिकारियों को पत्र लिखा था जिसमें उसने दावा किया था कि उसके मां और भाई के आतंकवादियों से संपर्क हैं और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’ खान को ऐसे पत्र लिखने के लिए पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है। जानकारी के मुताबिक, पुलिस उसके मोबाइल फोन की लोकेशन के जरिए उस पर नजर रखे हुए थी। लेकिन वह अपना मोबाइल घर पर ही छोड़कर पत्रों को डालने औरंगाबाद, नागपुर और अन्य स्थानों पर जाता था।

क्या था लिफाफे में

प्रज्ञा ठाकुर को जो लिफाफा मिला था उसमें उर्दू भाषा में एक चिट्ठी थी, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और प्रज्ञा ठाकुर की तस्वीर पर क्रॉस बना हुआ था और उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई थी। साथ ही एक फोटो में हथियार के चित्र थे। चिट्ठी के साथ दो पैकेट सफेद पाउडर भी मिला था। साथ ही उस लिफाफे में मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद और अन्य आतंकियों की तस्वीर भी थी। लिफाफे में एक कागज पर जले हुए तिरंगे की तस्वीर और पाकिस्तान का झंडा भी बना था।

ये भी पढ़े…

सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को रसायन सहित मिली संदिग्ध चिट्ठी, मोदी-शाह-डोभाल को जान से मारने की धमकी

गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर प्रज्ञा ठाकुर ने दी सफाई, कहा- कभी-कभी झूठ का बवंडर इतना गहरा होता है

रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति से हटाई गईं प्रज्ञा ठाकुर, बीजेपी भी कर सकती है बाहर!

 

Related posts