राम मंदिर: ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने कहा- मंदिर निर्माण के लिए सरकार से नहीं लेंगे कोई दान

mahant nritya gopal das

चैतन्य भारत न्यूज

ग्वालियर. राम मंदिर निर्माण के लिए गठित रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास महाराज का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि, ‘भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए कोई भी सरकारी दान या चंदा नहीं लिया जाएगा।’



महंत नृत्य गोपाल दास महाराज ने ग्वालियर में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि, ‘मंदिर निर्माण में शामिल होने के लिए सभी राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्रियों को अयोध्या आमंत्रित किया जाएगा।’ उन्होंने आगे कहा कि, ‘हम पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित कर चुके हैं, हमारे पास उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ हैं। अन्य सभी राज्यपालों और मुख्यमंत्रियों, जिन्हें धर्म में रुचि है, उन्हें एक भव्य मंदिर के निर्माण में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।’

ट्रस्ट के अध्यक्ष ने कहा कि, ‘मंदिर के निर्माण के लिए सरकार से कोई अनुदान नहीं लिया जाएगा। मंदिर जनता के योगदान से बनाया जाएगा। सरकार के पास पहले से ही कई समस्याएं हल करने के लिए हैं, हमारे पास ज्यादा बोझ नहीं है।’

बता दें इससे पहले गुरुवार को राम जन्मभूमि ट्रस्ट की पहली बैठक के बाद ट्रस्ट के चार प्रमुख पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके सरकारी आवास पर मुलाकात की थी। इस बैठक में अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास महाराज के अलावा वीएचपी नेता चंपत राय, के पराशरन और स्वामी गोविंद गिरिजी महाराज भी शामिल थे। करीब 1 घंटे तक चली बैठक में पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री मोदी को ट्रस्ट के गठन और सरकार के सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

बता दें राम मंदिर ट्रस्ट की अगली बैठक अयोध्या में 2-3 मार्च को हो सकती है जिसमें मंदिर निर्माण की तारीख का एलान किया जा सकता है। इसके लिए ट्रस्ट के पदाधिकारियों पीएम मोदी को आमंत्रित तो किया ही है और साथ ही उन्होंने पीएम मोदी से उनकी उपलब्धता के लिए समय भी देने के लिए कहा है। जिससे कि अगली बैठक में प्रधानमंत्री की उपलब्ध तारीखों के अनुरूप राम मंदिर के भूमि पूजन का कार्यक्रम निर्धारित किया जा सके।

ये भी पढ़े…

महंत नृत्य गोपाल दास बने राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष तो चंपत राय महासचिव, मंदिर निर्माण के लिए मिला लाखों का दान

राम मंदिर ट्रस्ट: केंद्र सरकार ने इन 15 लोगों के कंधों पर दी राम मंदिर निर्माण की जिम्मेदारी

राम मंदिर ट्रस्ट को लेकर विवाद शुरू, अयोध्या के नाराज संत ने सरकार पर लगाया अन्याय का आरोप

राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट को मिला पहला दान, केंद्र सरकार ने दिया 1 रुपया नकद 

Related posts