महाराष्ट्र: एक महीने बाद हुआ विभागों का बंटवारा, अजित पवार वित्त तो अनिल देशमुख बने गृह मंत्री

maharashtra

चैतन्य भारत न्यूज

मुंबई. महाराष्ट्र में एक महीने की जद्दोजहद के बाद आखिरकार मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विभागों का बंटवारा कर दिया है। राज्यपाल बीसी कोश्यारी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तरफ से भेजे गए विभागों की आवंटन प्रस्ताव सूची पर अपनी मुहर लगा दी। इसमें एनसीपी को जहां गृह मंत्रालय मिला है वहीं कांग्रेस को राजस्व मंत्रालय। आइए देखते हैं महाराष्ट्र में किसकों कौन सा विभाग मिला है-


एनसीपी

  • अनिल देशमुख – गृह विभाग
  • अजित पवार – वित्त व नियोजन
  • जयंत पाटिल – जल संसाधन (सिंचाई)
  • छगन भुजबल – फूड और सिविल सप्लाई
  • दिलिप वाल्से पाटिल- एक्साइज एंड लेबर
  • जितेंद्र अवहाद – आवास
  • राजेश तोपे – स्वास्थ्य
  • राजेंद्र शिंगने – खाद्य एवं औषधि प्रशासन
  • धनंजय मुंडे – सामाजिक न्याय

कांग्रेस

  • नितिन राउत – ऊर्जा
  • बालासाहेब थोराट – राजस्व
  • वर्षा गायकवाड़ – स्कूली शिक्षा
  • यशोमति ठाकुर – महिला और बाल कल्याण
  • केसी पाडवी – आदिवासी विकास
  • सुनील केदार – डेयरी विकास व पशुसंवर्धन
  • विजय वड्डेटीवार – ओबीसी कल्याण
  • असलम शेख – कपड़ा, बंदरगाह
  • अमित देशमुख – स्वास्थ्य, शिक्षा और संस्कृति

शिवसेना

  • आदित्य ठाकरे – पर्यावरण, पर्यटन
  • एकनाथ शिंदे – नगरविकास (MSRDC)
  • सुभाष देसाई – उद्योग
  • संजय राठोड़ – वन
  • दादा भुसे – कृषि
  • अनिल परब – परिवहन,संसदीय कार्य
  • संदीपान भुमरे – रोजगार हमी (EGS)
  • शंकरराव गडाख – जल संरक्षण
  • उदय सामंत – उच्च व तकनीकी शिक्षा
  • गुलाब राव पाटिल – जलापूर्ति

बता दें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नवंबर के अंत में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। उनके साथ कांग्रेस के दो विधायकों ने भी मंत्री पद की शपथ ली थी। इसके बाद पिछले हफ्ते हुए मंत्रिमंडल विस्तार में कांग्रेस के कोटे से और 10 विधायकों को मंत्री बनाया गया था।

ये भी पढ़े…

महाराष्ट्र मंत्रालय का केबिन नंबर 602, जिसमें बैठने से डरते हैं मंत्री, जानिए क्या है वजह

महाराष्ट्र : अजित पवार फिर बने उपमुख्यमंत्री, आदित्य ठाकरे समेत इन्होंने ली मंत्री पद की शपथ

अमृता फडणवीस ने फिर उद्धव ठाकरे को बनाया निशाना, कहा- खराब नेता मिलना महाराष्ट्र की गलती नहीं लेकिन

Related posts