इस शख्स ने बेटे को बेदखल कर दो हाथियों के नाम कर दी 5 करोड़ की संपत्ति, दिलचस्प है पूरी कहानी

चैतन्य भारत न्यूज

पटना. कुछ दिनों पहले केरल में एक शख्स द्वारा हथिनी को अनानास में पटाखे देकर मारने की घटना अब भी सुर्खियों में है। इस घटना ने जहां इंसानियत को शर्मसार कर दिया था तो वहीं बिहार में एक शख्स ने अपनी वसीयत में करोड़ों की जायदाद दो पालतू हाथियों के नाम कर मिसाल पेश की है।

5 करोड़ की संपत्ति की हाथियों के नाम

पटना के नजदीकी शहर फुलवारी शरीफ स्थित जानीपुर निवासी व एरावत संस्था के मुख्य प्रबंधक 50 वर्षीय अख्तर इमाम ने यह तारीफे काबिल काम किया है। अख्तर ने अपने हिस्से की जायदाद अपने पालतू हाथियों मोती और रानी के नाम कर दी है। एक बार जब अख्तर की हत्‍या की कोशिश की गई थी। तब इन हाथियों ने जान बचाई थी। उन्होंने हाथियों के नाम करीब 5 करोड़ की संपत्ति की है। हालांकि, शख्स ने आधी संपत्ति अपनी पत्नी के नाम भी की है।

हाथियों की मौत के बाद एरावत संस्था को मिलेगी संपत्ति

अख्तर ने रजिस्ट्री ऑफिस जाकर दोनों हाथियों के नाम दस्तावेज भी बनवा दिए हैं। यदि दोनों हाथियों को कुछ होता है तो यह संपत्ति अख्तर के बेटों को मिलने के बजाए एरावत संस्था के नाम हो जाएगी, ताकि इन हाथियों को तस्करों से भी बचाया जा सके। अख्तर महावत को प्रशिक्षण देने के साथ देशभर में हाथी की देखरेख के लिए भी भ्रमण करते रहते हैं।

12 साल की उम्र से कर रहे हाथियों की सेवा

अख्तर 10 साल से अपनी बीवी और बच्चे से अलग रह रहे हैं। वह 12 साल की उम्र से ही हाथियों की सेवा कर रहे हैं। पारिवारिक विवाद होने के कारण 10 साल पहले उनकी पत्नी दो बेटे और बेटी के साथ घर से मायके चली गई थी। जायदाद के चक्कर में बेटे मेराज उर्फ रिंकू ने अपनी ही प्रेमिका का दुष्कर्म से झूठा आरोप लगाकर उसे जेल भी भिजवा दिया था। लेकिन जांच में यह बात गलत पाई गई। इसलिए उन्होंने उसे जायदाद से वंचित कर दिया है।

हाथियों ने बचाई थी जान

अख्तर के मुताबिक, एक बार उन पर जानलेवा हमला करने का प्रयास भी किया गया था। इसी दौरान हाथी ने उन्हें बचा लिया था। अख्तर ने यह भी बताया कि, ‘मेरा बेटे मेराज ने पशु तस्करों से मिलकर हाथी बेचने की भी कोशिश की थी। लेकिन, वह पकड़ा गया। मैंने अपनी पूरी जायदाद हाथी के नाम कर दी है। अगर हाथी न रहा तो हमारे परिवार के किसी सदस्य को कुछ भी नहीं मिलेगा।’

ये भी पढ़े…

इंसानी शर्मनाक करतूत, गर्भवती हथिनी को पटाखों भरा अनानास खिलाया, देशभर में हो रही दोषियों के खिलाफ कड़ी सजा की मांग

विश्व की सबसे उम्रदराज हथिनी वत्सला को दिखना हुआ कम, दो बार दे चुकी है मौत को मात

Related posts