बेकसूर शख्स को 28 साल तक जेल में रखा गया, अब सरकार देगी 72 करोड़ का मुआवजा

चैतन्य भारत न्यूज

अमेरिका से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां एक अश्वेत शख्स को जबरन में 28 साल तक जेल में बंद रखा गया। जिस आरोप के लिए शख्स को जेल में रखा गया उसने उसे अंजाम ही नहीं दिया था। सरकार अब इस शख्स को मुआवजे के तौर पर 71.6 करोड़ रुपए देगी। आइए जानते हैं इस पूरे मामले के बारे में-

ऐसे सामने आया सच

यह मामला अमेरिका के फिलाडेल्फिया से सामने आया है। यहां हत्या के एक मामले में चेस्टर हॉलमैन नामक के शख्स को जेल में बंद कर दिया गया था। जब इस मामले का सच उजागर हुआ तो 2019 में चेस्टर को जेल से रिहा कर दिया गया। जांच के दौरान पता चला था कि मामले के अहम गवाह ने 1991 में झूठ बोलकर चेस्टर को फंसा दिया था। बाद में गलत सजा के लिए चेस्टर ने राज्य सरकार पर मुकदमा दायर किया था।

चेस्टर ने क्या कहा

फिलाडेल्फिया प्रशासन ने इस मामले में बुधवार को मुआवजे की राशि का ऐलान किया। हालांकि, दोनों पक्षों के बीच हुए समझौते में सरकार या सरकार के किसी कर्मचारी ने गलती नहीं मानी है। फिलाडेल्फिया के महापौर जिम केन्नी ने इस बारे में कहा कि, ‘समझौता ठीक है, लेकिन किसी की आजादी की कोई कीमत नहीं हो सकती है।’ वहीं चेस्टर का कहना है कि, ’28 साल के बाद आजादी वापस मिलने का अनुभव कड़वा है और सुखद भी। उनकी तरह काफी लोग दशकों तक जेल में बंद रहते हैं और महज सच सामने लाने के लिए लंबी लड़ाई लड़ते हैं।’

Related posts