शख्स ने नोटों से नाक साफ करते हुए बनाया टिकटॉक वीडियो, कोरोना को बताया अल्लाह की सजा, हुआ गिरफ्तार

चैतन्य भारत न्यूज

नासिक. इन दिनों देशभर में जानलेवा कोरोना वायरस का कहर है। सरकार बार-बार लोगों को घर में रहने की अपील कर रही है। साथ ही ऑनलाइन लेनदेन करने की बात कही जा रही है क्योंकि कागज से बने नोटों के जरिए भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें एक शख्स नोटों से नाक पोंछता हुआ नजर आ रहा था। अब पुलिस ने शख्स की पहचान कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।


दरअसल, महाराष्ट्र के नासिक के एक 38 वर्षीय शख्स ने अपने टिकटॉक वीडियो शेयर किया था जिसमें वह पांच-पांच सौ के नोटों को चाटते हुए और उनसे नाक साफ करते हुए दिखाई दे रहा है। वीडियो में आरोपी यह भी कह रहा है कि, ‘कोरोना जैसी बीमारी का कोई इलाज नहीं है। ये बीमारी नहीं, ये अल्लाह का अजाब है, आप लोगों के लिए।’ इसके बाद नासिक पुलिस ने शख्स की जानकारी जुटाकर उसे गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तारी की जानकारी पुलिस ने ट्वीट कर दी। नासिक पुलिस ने ट्वीट में लिखा कि, ‘यह व्यक्ति कोरोना संक्रमित हो सकता है। यह नोटों से अपनी नाक पोंछ रहा है। नाक पोंछकर और थूककर यह नोटों को भी संक्रमित कर सकता है। नासिक ग्रामीण पुलिस (महाराष्ट्र ग्रामीण) की तरफ से अभियुक्त के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई है और वह पुलिस की हिरासत में है।’

एक अधिकारी ने बताया कि, सैय्यद जमील सय्यद बाबू को मालेगांव में रमजानपुरा पुलिस ने गुरुवार देर रात गिरफ्तार किया है। शख्स ने वीडियो में यह कहा कि महामारी और तेज हो जाएगी। इसके बाद यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो वायरल होने के बाद हमने उन्हें गिरफ्तार किया। उसे 7 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

ये भी पढ़े…

कांग्रेस विधायक ने पत्नी संग बनाया निजी टिकटॉक वीडियो, वायरल होते ही मुसीबत में फंसे

TikTok के जरिए तीन साल बाद मिला जया प्रदा का लापता पति, प्रेमिका संग बना रहा था वीडियो

टिकटॉक पर एक-दूसरे से हुआ प्यार, शादी के 48 घंटे बाद ही मांग लिया तलाक

Related posts