मंगलवार को इस विधि से करेंगे पूजा, तो बजरंगबली हर लेंगे सभी कष्ट और परेशानियां

चैतन्य भारत न्यूज

हिंदू धर्म में मंगलवार के व्रत का महत्व बहुत अधिक माना जाता है। मान्यता है कि विधिपूर्वक व्रत रखने से व्रती सभी तरह के भय और चिंताओं से मुक्त हो जाता है। इस दिन भगवान हनुमान की पूजा की जाती है। आइए जानते हैं मंगलवार व्रत का महत्व और पूजन-विधि।



mangalvar vrat,mangalvar vrat ka mahatava,mangalvar vrat pujan vidhi

मंगलवार व्रत का महत्व

शास्त्रों के मुताबिक, मंगलवार के व्रत से हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। यह व्रत सम्मान, बल, साहस और पुरुषार्थ को बढ़ाता है। संतान प्राप्ति के लिए भी है व्रत बहुत फलदायक है। इस व्रत से पापों से मुक्ति प्राप्त होती है। कहा जाता है कि दूसरी दुनिया से जुड़ी काली शक्तियों का दुष्प्रभाव भी इस व्रत करने वाले पर कोई असर नहीं डालता। मान्यता है कि मांगलिक दोष से पीड़ित जातकों को भी मंगलवार का व्रत रखने से लाभ होता है।

mangalvar vrat,mangalvar vrat ka mahatava,mangalvar vrat pujan vidhi

मंगलवार व्रत की पूजा-विधि

  • व्रत वाले दिन सूर्योदय से पहले स्नान कर लें।
  • इस दिन लाल कपड़े पहनें और हाथ में पानी ले कर व्रत का संकल्प करें।
  • इसके बाद घर के ईशान कोण में किसी एकांत में बैठकर हनुमानजी की मूर्ति या चित्र स्थापित करें।
  • हनुमान जी की मूर्ति या तस्वीर के सामने घी का दीपक जलाएं और भगवान पर फूल माला या फूल चढ़ाएं।
  • इसके बाद रुई में चमेली का तेल लेकर भगवान के आगे रखें या उन पर चढ़ाएं।
  • इसके बाद हनुमान चालीसा और सुंदर कांड का भी पाठ करें। साथ ही मंगलवार व्रत की कथा भी पढ़े।
  • ज्योतिषियों के मुताबिक, 21 मंगलवार व्रत करने के बाद 22 वें मंगलवार को 21 ब्राह्मणों को घर बुलाकर भोजन कराएं।

ये भी पढ़े…

हनुमान जी को करना है प्रसन्न, तो मंगलवार को जरूर करें ये काम

मंगलवार के दिन इस विधि से करें हनुमान जी की पूजा, दूर होंगे कष्ट

मंगलवार को भूलकर भी न करें ये आठ काम, वरना बजरंगबली हो जाएंगे रुष्ट

Related posts