उन्नाव: मकान की नींव खुदाई के दौरान मिली मुगलकालीन चांदी के सिक्कों से भरी मटकी, पुलिस ने की जब्त

चैतन्य भारत न्यूज

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक मकान निर्माण के दौरान जमीन के नीचे मिट्टी के बर्तन में मुगलकालीन चांदी के सिक्के मिलने का मामला सामने आया है। ग्रामीणों के मुताबिक खुदाई के दौरान नीव में मिट्टी का एक घड़ा मिला, जिसमें मुगलकाल के 96 सिक्के थे। इन सिक्कों का छह भाइयों ने आपस में बंटवारा कर लिया। हालांकि, बाद में पुलिस ने सिक्कों को अपने कब्जे में ले लिया है।

सिक्के देखने के लिए लग रही भीड़

जानकारी के मुताबिक, उन्नाव के गंजमुरादाबाद के सैदापुर गांव में दिनेश के यहां मकान बनाने के लिए नींव खुदाई चल रही थी। इसी दौरान मुगलकालीन चांदी के सिक्कों से भरी मटकी निकली। इसके बाद ही गांव में अफरा-तफरी मच गई। देखते ही देखते काफी संख्या में भीड़ भी पहुंच गई। सूचना पर बांगरमऊ पुलिस मौके पर पहुंची और खुदाई का काम बंद कराया।

81 सिक्के बरामद, शेष की तलाश जारी

जैसे ही बाकी के भाइयों को सिक्के मिलने की जानकारी मिली तो विनोद, बृजेश, अरुण, राकेश और राजीव कानपूर से अपने पैतृक गांव आ पहुंचे। सभी छह भाइयों ने आपस में 16-16 सिक्के बांट लिए। कानपुर में रहने वाले पांचों भाई सिक्के लेकर चले गए। सीओ बांगरमऊ ने बताया कि मकान कि नींव की खुदाई के दौरान मिले सिक्कों में से 81 सिक्कों को बरामद कर लिया गया है। शेष की तलाश की जा रही है।

एक सिक्के का वजन 10 ग्राम

पुलिस ने सभी सिक्के कब्जे में लेकर सरकारी मालखाने में जमा कराया है। एक सिक्का दस ग्राम का बताया गया है। इस तरह सभी 96 सिक्कों का वजन लगभग एक किलो है। सिक्कों पर उर्दू में सन 1232 और 1238 लिखा हुआ है। पुरातत्व विभाग की जांच में ही इन सिक्कों की पूरी सच्चाई सामने आएगी।

Related posts