अब नर्स बनना आसान नहीं, B.Sc नर्सिंग में ए‍डमिशन के लिए भी NEET देनी होगी

staff nurse,west bengal health recruitment

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. कोरोना महामारी के दौरान सिर्फ डॉक्टरों ने ही नहीं बल्कि नर्स और नर्सिंग स्टाफ ने दिन रात एक कर मरीजों की सेवा की है। कोरोना वॉरियर के नाम से जाने गए ये नर्सिंग ऑफीसर और नर्स स्टाफ को देखकर अब आम युवा भी उनकी तरह मेडिकल फील्ड में जाकर सेवा करने का सपना देख रहे हैं। हालांकि स्टाफ नर्स या क्लीनिकल स्पेशलिस्ट बनने की राह अब इतनी आसान नहीं रहेगी।

हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से बीएससी इन नर्सिंग कार्यक्रम के लिए संशोधित नियम और पाठ्यक्रम 2020 जारी किया गया है। जिसमें नर्स बनने की योग्यता से लेकर सभी जरूरी बातों को रेखांकित किया गया है। हालांकि लंबे समय से नर्सिंग काउंसिल ऑफ इंडिया और नर्सेज फेडरेशन की ओर से बीएससी इन नर्सिंग में एंट्रेंस एग्जाम को लेकर मांग की जा रही थी। जिसे केंद्रीय कॉलेजों में लागू कर दिया गया है।

अब से केंद्र सरकार के नर्सिंग कॉलेजों या इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में बीएससी इन नर्सिंग की पढ़ाई करने के लिए नीट (NEET) की परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर दाखिला दिया जाएगा। गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी नई दिल्ली की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है कि बीएससी नर्सिंग 2021 में दाखिला नीट परीक्षा 2021 में प्राप्त किए गए अंकों के आधार पर दिया जाएगा।

Related posts