MP : विधानसभा सत्र में कई नेता बिना मास्क के पहुंचे, उषा ठाकुर बोलीं- मैं प्रतिदिन हनुमान चालीसा पढ़ती हूं, यह मेरा कोरोना से बचाव है

चैतन्य भारत न्यूज

मध्यप्रदेश में भी कोरोना के मरीजों में रोजाना बढ़ोतरी हो रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए के लिए गंभीर हैं और साथ ही जनता से सतर्कता बरतने की लगातार अपील कर रहे हैं, लेकिन सीएम की यह अपील उनके मंत्रियों पर बेअसर साबित हो रही है। विधानसभा सत्र के दौरान कई सारे नेता बिना मास्क के घूमते हुए नजर आए। इनमें से एक बड़ा नाम है उषा ठाकुर।

मैं रोज हनुमान चालीसा पढ़ती हूं: उषा ठाकुर

मंगलवार को मंत्री उषा ठाकुर बगैर मास्क लगाए विधानसभा पहुंचीं। जब उनसे पूछा गया तो बोलीं- ‘हनुमान चालीसा पढ़ती हूं, इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं रोज हनुमान चालीसा का पाठ करती हूं। प्रतिदिन शंख बजाती हूं। काढ़ा पीती हूं। गोबर के कंडे पर हवन करती हूं। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। यह मेरा कोरोना से बचाव है। गमछा गले मे रखती हूं, अगर कोई पास आए तो मुंह पर रख लेती हूं। दुनिया में जिसे श्रेष्ठतम तरीके से जीना है, वह वैदिक जीवन पद्धति अपनाए। कोई तकलीफ नहीं छुएगी।’

बताया इंदौर में क्यों बढ़ रहे केस

इतना ही नहीं बल्कि महू विधानसभा क्षेत्र से विधायक व प्रदेश की मंत्री उषा ठाकुर ने इंदौर में केस बढ़ने का कारण बताते हुए कहा कि, लोग सड़कों पर चाट पकौड़ी खाने आ रहे हैं, इसलिए संक्रमण बढ़ रहा है।

रामबाई ने दिया यह बहाना

वहीं बीएसपी विधायक रामबाई ने कहा कि, ‘मुझे घबराहट होती है, इसलिए मास्क नहीं पहन सकती।’ उन्होंने तर्क दिया कि, ‘जिसके पास हिम्मत होती है वही कुछ कर सकता है। मुझे मास्क की बिल्कुल जरूरत नहीं है। मुझे कुछ भी नहीं है इसलिए मास्क नहीं लगाना। मास्क न पहनने पर जो जुर्माना होगा वह मैं दे दूंगी। लेकिन मास्क नहीं लगाऊंगी। मुझे घबराहट होती है।’

Related posts