असम-मिजोरम बॉर्डर हिसंक झड़प, असम पुलिस के 6 जवान शहीद, दोनों राज्यों के CM ने की PMO से दखल की मांग

 चैतन्य भारत न्यूज

असम-मिजोरम सीमा पर हिंसा भड़कने की खबर आ रही है। दोनों राज्यों के बीच सीमा विवाद और भी भड़कता जा रहा है। असम पुलिस ने जानकारी दी है कि दोनों राज्यों की सीमा पर मिजोरम से आए कुछ अराजक तत्वों ने पथराव और फायरिंग की है। जानकारी के अनुसार इस टकराव में असम पुलिस के छह जवान शहीद हुए हैं। दोनों ही राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने एक-दूसरे पर आरोप लगाते हुए केंद्रीय गृह मंत्री से दखल की मांग की है।

सूत्रों के अनुसार, असम-मिजोरम बॉर्डर पर सीआरपीएफ की तैनाती के बाद स्थिति में कुछ शांति आई है।    ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि, मुझे यह बताते हुए काफी दुख हो रहा है कि असम पुलिस के छह वीर जवानों ने असम-मिजोरम बॉर्डर पर हमारे प्रदेश की संवैधानिक सीमा की रक्षा करते हुए अपने जान की कुर्बानी दे दी। मैं सभी शोक संतप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूं।

वहीं, मिजोरम के गृह मंत्री लालछमलियाना ने कहा कि आज असम पुलिस के आईजीपी की अगुवाई में करीह 200 पुलिसकर्मी वेयरेंगटे ऑटो रिक्शॉ स्टैंड पर आए थे। उन्होंने यहां सीआरपीएफ अधिकारियों की तैनाती वाली ड्यूटी पोस्ट और मिजोरम पुलिस की ड्यूटी पोस्ट को जबरन पार किया। असम पुलिस की इस हरकत की जानकारी पा कर वहां के नागरिक घटना स्थल पर पहुंचे। निहत्थे नागरिकों पर असम पुलिस ने लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े।

बता दें सीमा विवाद को इस मुद्दे को लेकर हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी बैठक की थी। उन्होंने दोनों राज्यों से विवाद सुलझाने को कहा। जिसके बाद मुख्यमंत्रियों ने गृह मंत्री को विवाद सुलझाने और मामले को जल्द ठंडा करने का भरोसा दिया है।

जानिए क्या है विवाद

दोनों राज्यों के बीच तनाव तब पैदा हुआ जब असम पुलिस ने राज्य की जमीन को कब्जे में लेने के लिए सीमा पर कथित तौर पर अतिक्रमण करना शुरू किया। 10 जुलाई को जब असम सरकार की टीम मौके पर गई तो उस पर अज्ञात लोगों ने बम से हमला कर दिया।

 

Related posts