पैसा वसूलने आए किसानों को बताया बच्‍चा चोर, भीड़ लाठी-पत्थरों से मारती रही, 1 की मौत, 5 की हालत गंभीर

mob lynching dhar

चैतन्य भारत न्यूज

मनावर. मध्य प्रदेश के धार जिले के बोरलई गांव में बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने फिर एक व्यक्ति की जान ले ली। बुधवार को बच्चा चोरी की अफवाह के चलते भीड़ ने अपनी रकम वसूल करने गड़ियों में आए छह लोगों पर पत्थर और लाठियों से हमला कर दिया। इस हमले में एक व्यक्ति की अस्पताल ले जाते वक्त मौत हो गई और पांच लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं।



घटना तिरला इलाके के खड़किया गांव की है। पीड़ित लोग उज्जैन जिले के लिंबी पिपलिया गांव के रहने वाले हैं। गांव के पांच खेत मालिकों ने खड़किया के अवतार सिंह, राजेश, जामसिंह, सुनील व महेश को मजदूरी के लिए रखा था। इसके लिए उन्होंने मजदूरों को 50-50 हजार रुपए अडवांस दिए थे। लेकिन वे लोग बगैर मजदूरी किए ही अपने गांव वापस आ गए।

 

जब विनोद मुकाती ने अपने पैसे लौटाने का दबाव बनाया तो इन मजदूरों ने मुकाती को अपने गांव बुलाया। बकाया राशि लेने के लिए खेत के मालिक दो कारों में सवार होकर बुधवार सुबह खड़किया पहुंचे। गांव पहुंचते ही ग्रामीणों ने उन पर पत्थरों सेहमला करना शुरू कर दिया। वे जान बचाकर मनावर के बोरलाय गांव पहुंचे तो फोन कर अफवाह फैला दी कि वे बच्चा चोरी कर भागे हैं।


हाट बाजार होने से बोरलाय में काफी भीड़ थी। लोगों ने किसानों की गाड़ियां देखते ही उन पर लाठी और पत्थरों से हमला कर दिया। इस दौरान करीब 500 से ज्यादा लोगों की भीड़ ने उन लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। भीड़ ने उन लोगों पर लाठी-डंडे भी बरसाए और कुछ लोगों के सिर पर पत्थर दे मारे। बताया जा रहा है कि जब भीड़ किसानों को पीट रही थी, उस दौरान गणेश बचने के लिए सामने एक घर में घुस गया। गणेश और उस घर के मालिक ने वहीं से डायल-100 को फोन किया और बताया कि भीड़ हमें पीट रही है, बचा लो। इसके बाद महज 3 पुलिसकर्मी किसानों को भीड़ से बचाने गए।

घटना के बाद कार चालक गणेश पिता मनोज पटेल (38) की अस्पताल ले जाते वक्त मौत हो गई। किसान जगदीश राधेश्याम शर्मा (45), नरेंद्र सुंदरलाल शर्मा (42), विनोद तुलसीराम मुकाती (43), रवि पिता शंकरलाल पटेल (38), जगदीश पूनमचंद शर्मा को इंदौर लाया गया है। फिलहाल रवि की हालत ज्यादा गंभीर है।

धार के एसपी आदित्यप्रताप सिंह के मुताबिक, पुलिस ने पूरे मामले में 3 लोगों के खिलाफ नामजद और 10 अन्य अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। तीन आरोपियों अवतार पिता गुलाबसिंह, भुवनसिंह, जामसिंह पिता पुंजिया की पहचान हो चुकी है। पुलिस ने धारा 307 (प्राणघातक हमला), 147 (बलवा), 435 (आगजनी) के तहत केस दर्ज किया है। मामले की जांच की जा रहे है।

ये भी पढ़े…

मॉब लिंचिंग पर पीएम मोदी को चिट्ठी लिखने वाली हस्तियों पर भड़कीं कंगना, 49 लोगों को दिया जवाब

मॉब लिंचिंग के खिलाफ अनुराग कश्यप समेत 49 हस्तियों ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, कहा- देश का माहौल बिगड़ रहा है

मॉब लिंचिंग पर कमलनाथ सरकार बना रही कड़ा कानून, अब होगी पांच साल की जेल

 

Related posts