आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री पर बरसे मोदीः कहा ”आप सीनियर हैं चुनाव हारने में”

चैतन्य भारत न्यूज।

आंध्र प्रदेश पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर जमकर बरसे। सीनियर-जूनियर के बयान पर पलटवार करते हुए पीएम मोदी ने मंच से नायडू पर चुटकी लेते हुए कहा कि वह चुनाव दर चुनाव हारने में भी काफी सीनियर हैं। मोदी ने आंध्र प्रदेश के गुंटूर में रैली के दौरान कहा कि उन्होंने आंध्र के गरीबों के लिए नई योजनाएं चलाने का वादा किया था, लेकिन मोदी की योजनाओं पर ही अपना स्टीकर लगा दिया है।

जनता की तिजोरी से निकाल रहे पैसा

पीएम मोदी ने कहा, ‘डिक्शनरी में जितनी भी गाली हैं वो इन्होंने मोदी के लिए रिजर्व कर दी हैं। हर रोज नई गाली देते हैं। क्या उनको आंध्र के संस्कारों को इस तरह बदनाम करने का अधिकार है। ये (मुख्यमंत्री  नायडू) कल फोटो खिंचवाने के लिए बड़े हुजूम को लेकर दिल्ली जाने वाले हैं, लेकिन बीजेपी जैसे अपने कार्यकर्ताओं के पैसे से कार्यक्रम करा रही है। वो आंध्र की जनता की तिजोरी से पैसा निकाल कर ले जा रहे हैं।

आप सीनियर हैं….

वो बार-बार मुझे याद दिलाते हैं कि वो मुझसे बहुत सीनियर हैं। मैं कहता हूं कि आप सीनियर हैं, इसलिए आपके सम्मान में कोई कमी नहीं छोड़ी। आप सीनियर हैं दल बदलने में, आप सीनियर हैं नए-नए दल से गठबंधन करने में। आप सीनियर हैं एक चुनाव के बाद दूसरे चुनाव हारने में, मैं तो उसमें सीनियर हूं नहीं। पीएम मोदी ने कहा, ‘आप सीनियर हैं आज जिसको गाली दें कल उसकी गोद में बैठने में’।

महामिलावट की जा रही

पीएम मोदी ने कहा, जिन लोगों ने देश को धुएं में जीने के लिए छोड़ दिया था वो अब देश में झूठ का धुआं फैलाने में जुटे हैं। महामिलावट की जा रही है। पीएम मोदी ने विरोधी पोस्टर पर तंज कसते हुए कहा, जब हम स्कूल में पढ़ते थे तो टीचर कहती थीं- गो बैक वापस सीट पर जाकर बैठो। मैं खुश हूं कि टीडीपी ने मुझे कहा है कि गो बैक वापस जाकर दिल्ली में बैठो। उन्होंने कहा महामिलावट के जिस क्लब में यहां के सीएम शामिल हुए हैं उसका स्वार्थ सिर्फ अपने राजनीति के दीये को जलाए रखना है।

उन्होंने कहा  ‘मैं चंद्रबाबू नायडू को याद दिलाना चाहता हूं कि हमारा उद्देश्य खुद के लिए धन पैदा करना नहीं, बल्कि देश के लिए धन पैदा करना है, और देश के धन और संसाधनों का कुशल उपयोग सुनिश्चित करना है। पिछले 55 महीनों में केंद्र सरकार ने आंध्र के विकास के लिए पर्याप्त धनराशि जारी की है। हालांकि, राज्य सरकार ने कभी भी कुशल तरीके से इस फंड का इस्तेमाल नहीं किया।

विकास के लिए करेंगे काम
राज्य का विकास कर पाने में नाकाम टीडीपी ने बाद में यू-टर्न ले लिया। मेरा वादा है कि आंध्र प्रदेश के विकास के लिए पूरे समर्पण भाव से हमारा काम जारी रहेगा।

ये भी पढ़ें…

पूर्वोत्तर के दौरे पर मोदीः अरुणाचल प्रदेश को दी एयरपोर्ट की सौगात, असम में नागरिकता संशोधन बिल पर बोले

Related posts