मां ने राशन लाने भेजा, बेटा बहू ले आया, थाने पहुंचा मामला

gaziabad

चैतन्य भारत न्यूज

गाजियाबाद. कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के दौरान कई ऐसे अनोखे मामले सामने आए हैं जिन्होंने लोगों को हैरत में डाल दिया है। लेकिन गाजियाबाद के एक शख्स ने तो गजब ही कर दिया। यहां एक मां ने बेटे को किराना लेने भेजा था, लेकिन जब वो लौटा तो दुल्हन को साथ लेकर आ गया। बेटे के साथ बहू को देखकर मां भड़क उठी और उन्होंने दोनों को ही घर में नहीं घुसने दिया। इसके बाद मामला थाने पहुंच गया।

हरिद्वार में की थी शादी

यह मामला गाजियाबाद जिले के साहिबाबाद इलाके से सामने आया है जहां लॉकडाउन में अचानक दुल्हन के घर आने पर युवक की मां के होश उड़ गए। श्याम पार्क में रहने वाला 26 साल का गुड्डू बुधवार सुबह राशन लेने की बात कहकर निकला था। फिर करीब तीन घंटे बाद वह एक युवती के साथ घर पहुंचा। उसने अपनी मां को बताया कि इस युवती से उसने शादी कर ली है। यह सुनकर मां नाराज हो गईं। बेटे से सवाल किए तो उसने बताया कि दो महीने पहले हरिद्वार के एक आर्य समाज मंदिर में दिल्ली की सविता से शादी रचाई थी। उस समय गुड्डू अपनी दुल्हन को घर नहीं ला सका था क्योंकि अभाव में उन्हें मैरिज सर्टिफिकेट नहीं मिला था। फिर गुड्डी अपने घर गाजियाबाद लौट आया और युवती दिल्ली के ही एक मकान में किराए से रहने लगी।

मां को नहीं दी शादी की जानकारी

घर लौटने के बाद गुड्डू ने शादी के बारे में मां को कुछ भी नहीं बताया। फिर लॉकडाउन में गुड्डू ने अपनी पत्नी को घर लाने की भी कोशिश की लेकिन नियमों की सख्ती के कारण वह नाकामयाब रहा। कुछ दिनों बाद सविता से उसके मकान मालिक ने घर खाली करने को कहा। ऐसी स्थिति में गुड्डी के पास और कोई रास्ता नहीं था तो उसने सविता को किसी तरह गाजियाबाद बुला लिया। फिर मां को किराने का सामान लाने का कहकर गुड्डू सविता को घर ले आया।

मां ने लगाई गुहार

मां ने रोते हुए थाने में गुहार लगाई कि उसे ऐसी शादी और बहू नहीं चाहिए। फिर शाहिबाबाद थाने में पुलिस अधिकारियों ने पूरा माजरा समझा और सभी पक्षों को समझाने की कोशिश की। पुलिस ने उन्हें समझाकर शांत करवाया। इसके बाद दोनों किराये के मकान में रहने चले गए।

 

Related posts