सीएम शिवराज सिंह चौहान का कथित ऑडियो लीक! कहा- कमलनाथ की सरकार गिराने का केंद्र से मिला था आदेश

shivraj singh chauhan,rahul gandhi,madhyapradesh

चैतन्य भारत न्यूज

भोपाल. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की एक कथित ऑडियो क्लिप वायरल हुई है। इस क्लिप में वह इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे हैं। वायरल ऑडियो क्लिप में सीएम शिवराज यह भी कह रहे हैं कि आलाकमान के निर्देश पर हमने एमपी में कमलनाथ की सरकार गिराई। चैतन्य भारत न्यूज इस तरह के किसी भी वायरल ऑडियो क्लिप की पुष्टि नहीं करता हैं।

ऑडियो क्लिप में क्या है

बता दें सीएम शिवराज सिंह चौहान सोमवार को इंदौर दौरे पर थे। सोमवार की शाम को शिवराज ने शहर की रेसीडेंसी कोठी में सांवेर उपचुनाव को लेकर स्थानीय नेताओं के साथ बैठक की थी। बैठक में मीडिया की एंट्री नहीं थी। इसके बाद शिवराज का ऑडियो क्लिप वायरल हुआ है। क्लिप में चौहान को यह कहते हुए सुना गया है, ‘बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया कि सरकार गिरनी चाहिये नहीं तो ये बर्बाद कर देगी, तबाह कर देगी और आप बताओ ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी भाई के बिना सरकार गिर सकती थी? और कोई तरीका नहीं था। धोखा न तुलसी सिलावट ने दिया और न ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया। धोखा कांग्रेस ने दिया।’

कांग्रेस का हमला

शिवराज का ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद कांग्रेस ने उन पर हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘बीजेपी शुरू से ही कांग्रेस के इन आरोपों को नकारती रही। जबकि पूरे प्रदेश ने देखा कि जो विधायक बेंगलुरु में बंधक बनाए गए थे, उनके साथ बीजेपी के नेता मौजूद थे। उनकी तस्वीरें भी कई बार सामने आई, लेकिन कल तो प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद इंदौर के रेसीडेंसी कोठी में सांवेर के कार्यकर्ताओं की एक बैठक में सार्वजनिक रूप से यह स्वीकार कर कांग्रेस के उन आरोपों पर मोहर लगा दी है। इससे इस बात की भी पुष्टि हो गई है बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व भी इस साजिश व षड्यंत्र में शामिल था और जानबूझकर कांग्रेस सरकार को गिराया गया और सरकार गिराने में सिंधिया की इसलिए मदद ली गई क्योंकि उनके बगैर सरकार गिर नहीं सकती थी। इसी से समझा जा सकता है कांग्रेस में कोई असंतोष नहीं था ,सरकार के पास पूर्ण बहुमत था सिर्फ बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर व चाहने पर जानबूझकर षड्यंत्र व साजिश रच कर कांग्रेस की राज्य की लोकप्रिय सरकार को गिराया गया।’

सज्जन सिंह वर्मा बोले ‘बेशर्म मामा’

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भी वायरल ऑडियो पर हमला किया है। सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि, ‘बेशर्म मामा’ ने अब तो सबके सामने मान लिया है कि उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व के कहने पर सिंधिया और तुलसी जैसे बिकाऊ नेताओं के साथ मिलकर जनता के द्वारा चुनी हुई कमलनाथ सरकार को गिराई। भाजापा की नीति अब सबके सामने आ चुकी है। राजनीति को कलंकित करने वालों का पर्दाफाश हो चुका है।

विवेक तन्खा की तीखी प्रतिक्रिया

देश के जाने-माने वकील व कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा ने भाजपा और केंद्र सरकार पर हमला बोला है। तन्खा ने ट्वीट कर कहा कि अगर यह ऑडियो सही है तो देश के लिए अत्यंत शर्मनाक है। केंद्र के षड्यंत्र से विपक्ष की राज्य सरकारें गिराना भाजपा की अल्पकाल में जीत जरूर है, मगर हमारे संविधान और प्रजातांत्रिक मूल्यों की हार है। पैसे के दम पर सरकारें बनाना और गिराना छोटी मानसिकता का प्रतीक है।

ये भी पढ़े…

मप्र: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया विभागों का बंटवारा, जानें किन मंत्रियों को मिला कौनसा विभाग

मप्रः मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बहुमत साबित किया, कांग्रेस के विधायक नहीं पहुंचे

चौथी बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बने शिवराजसिंह चौहान, राजभवन में सादे समारोह में ली शपथ

Related posts