MP: हैवानों ने महिला से की निर्भया जैसी दरिंदगी, दुष्कर्म के बाद प्राइवेट पार्ट में डाला सरिया, गृह मंत्री बोले- आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा

चैतन्य भारत न्यूज

सीधी. मध्य प्रदेश के सीधी जिले से हैवानियत की हदे पार कर देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक विधवा महिला के साथ तीन युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसके प्राइवेट पार्ट में सरिया डाल दिया।

यह घटना अमिलिया थाना क्षेत्र शनिवार रात करीब 10 बजे की है। जहां वह अपने दो बच्चे और बहन के साथ रहती है। उसके पति की मौत 4 साल पहले हो चुकी है। जिसके बाद से पीड़िता झोपड़ी में ही चाय की एक छोटी सी दुकान चला अपने परिवार को पाल रही है। शनिवार देर रात गांव के ही लल्लू कोल नाम के युवक ने पीड़िता को आवाज लगाकर पानी मांगा। जब महिला ने पानी देने से मना कर दिया तो लल्लू समेत चार लोग झोपड़ी में घुस गए और बारी-बारी से महिला का बलात्कार किया।

दरिंदे इस पर भी नहीं माने और फरार होने के पहले उन्होंने पीड़िता के निजी अंगों में लोहे की रॉड डाल दी। जब ये घटना हुई उस वक्त घर पर पीड़िता की बहन भी मौजूद थी, लेकिन आसपास बस्ती ना होने के कारण उसकी चींख-पुकार पर भी मदद के लिए कोई नहीं आया। पीड़िता को एक ऑटोरिक्शा में अमलिया पुलिस स्टेशन ले जाया गया, जहां से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में शुरुआती इलाज के बाद उसे जिला अस्पताल ले जाया गया।

इसके बाद पीड़िता को बेहोशी की हालत में बेहतर इलाज के लिए तुरंत रीवा के संजय गांधी मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। जानकारी के मुताबिक, महिला की हालत गंभीर थी लगातार प्रायवेट पार्ट से रक्तस्त्राव हो रहा था, इसकी सर्जरी की गयी है। महिला के बच्चेदानी का पहले ऑपरेशन हो चुका था आंत में भी चोट थी, जिसकी सर्जरी की गई है। अब हालत में सुधार हो रहा है। महिला अभी कुछ भी बात करने की स्थिति में नहीं है। घटना के बाद अब प्रशासन हरकत के आया है, पीड़िता को इलाज के साथ ही 1 लाख रुपए आर्थिक सहायता प्रदान की है।

पीड़िता के परिवार की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कराते हुए 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पीड़ित महिला के ही गांव के रहने वाले हैं। इस घटना को अंजाम देने वालों की पहचान आरोपी लल्लू कोल, भाईलाल पटेल और 2 अन्य के रुप में हुई है। इस मामले में राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि, सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। सभी को जल्द से जल्द कड़ी सजा दी जाएगी।

 

 

Related posts