टॉयलेट में सेल्फी लेने के बदले 51 हजार मिलने की खबर सुनते ही सभी दूल्हे पहुंच गए बाथरूम, मप्र सरकार बोली- ऐसी कोई योजना नहीं…

toilet selfie

चैतन्य भारत न्यूज

भोपाल. कुछ दिन पहले ही सोशल मीडिया पर यह खबर फैली थी कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत विवाह या निकाह करने वाले लोगों को अगर लाभ के 51 हजार रुपए चाहिए तो शादी के तुरंत बाद दूल्हे को घर में बने टॉयलेट में फोटो खिंचवानी होगी। जब इस फोटो को खींचकर सरकार को भेजा जाएगा, तब ही योजना के 51 हजार रुपए मिलेंगे। इसके बाद तो कई दूल्हों ने टॉयलेट में फोटो खिंचवाकर उसे सोशल मीडिया पर शेयर करनी भी शुरू कर दी। लेकिन हाल ही में यह खबर आई है कि सरकार ने इस फैसले से इनकार कर दिया है।



सरकार ने अब तक यह साफ नहीं किया कि उन्होंने शौचालय में सेल्फी की ये तस्वीरें क्यों खिंचवाई। कांग्रेस प्रवक्ता अभय दुबे ने कहा, ‘जैसे हमारे संज्ञान में बात आई तो हमारे मंत्रियों ने स्पष्ट किया। हमने ऐसा कोई फैसला नहीं लिया है। ये पूर्ववर्ती सरकार का फैसला है, हमें संशोधन करना है तो हम करेंगे।’ इन दिनों सोशल मीडिया पर एक दूल्हे की सेल्फी वायरल हो रही है। इस दूल्हे का नाम है मोहम्मद सद्दाम, जिन्होंने मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कन्या विवाह-निकाह योजना के तहत मिलने वाले 51,000 रुपए मिलने के मकसद से टॉयलेट में जाकर तस्वीर क्लिक करवाई।

इस योजना के तहत सरकार बेटियों की शादी पर देती है 51 हजार रुपए

बता दें मध्यप्रदेश सरकार मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत अपने राज्य में बेटियों की शादी पर 51 हजार रुपए देती है। शादी से करीब एक महीने पहले दूल्हे को सरकार को यह बताना होता था कि उनके घर में शौचालय है। यह पैसा तीन किस्तों में दिया जाता है, जिसमें पहले 43 हजार रुपए सीधे दुल्हन के खाते में पहुंच जाते हैं। फिर 5 हजार रुपए घर के सामान के लिए और 3 हजार रुपए शादी के तोहफे के रूप में दिए जाते हैं। पिछले साल सत्ता में आने के एक दिन बाद ही कांग्रेस सरकार ने इस योजना के तहत आर्थिक राशि 28 हजार रुपए से बढ़ाकर 51 हजार रुपए कर दी थी। इसके बाद से ही इस योजना के तहत आवेदनों का सिलसिला बढ़ गया और ऐसे में अधिकारियों के लिए घर-घर जाकर टॉयलेट का निरीक्षण करना मुश्किल हो गया।

Related posts