मुंबई में 4 मंजिला इमारत गिरी, मलबे के नीचे 40 से ज्यादा लोगों के दबे होने की आशंका

mumbai building collapse,dongri

चैतन्य भारत न्यूज

मुंबई में एक और इमारत गिरने की खबर सामने आई है। यहां डोंगरी इलाके में 4 मंजिला इमारत का आधा हिस्सा गिर गया है। सूत्रों के मुताबिक, हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है। मलबे के नीचे 40 से 50 लोगों के दबे होने की आशंका है। हादसे की सूचना मिलते ही राहत और बचाव दल मौके पर पहुंच गया है। साथ ही एम्बुलेंस और एनडीआरएफ की टीमें भी घटनास्थल पर पहुंच चुकी हैं।

बीएमसी के अधिकारियों ने कहा कि, अभी यह पुख्ता जानकारी नहीं दी जा सकती है कि मलबे में कितने लोग फंसे हुए हैं। लेकिन 40 से 50 लोगों के फंसे होने की आशंका है। फिलहाल मलबे में फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने की प्राथमिकता है।

कुछ अधिकारियों ने कहा कि, जो इमारत गिरी है वो जर्जर हालत में थी। इमारत की बुनियाद कमजोर थी शायद इस वजह से यह हादसा हुआ है। इमारत किस वजह से गिरी है इसके बारे में तत्काल कुछ कह पाना मुश्किल है। इस हादसे पर अब राजनीति होना शुरू हो गई है। कांग्रेस नेता अमीन पटेल ने कहा कि, इस तरह के सभी हादसों का जिम्मेदार महाराष्ट्र गृहनिर्माण व विकास प्राधिकरण (म्हाडा) है।

स्थानीय लोगों ने इस हादसे का जिम्मेदार बीएमसी को ठहराया है. उनका कहना है कि इस तरह के सभी हादसे के लिए बीएमसी ही पूरी तरह जिम्मेदार है। लोगों ने कहा कि, ‘बीएमसी के अधिकारी हर वर्ष कमजोर इमारतों का लेखाजोखा तैयार करते हैं। एक हादसे के बाद दूसरे हादसे के लिए बीएमसी और राज्य सरकार को इंतजार रहता है। हर एक हादसे के बाद मंत्री, विधायक और अधिकारी इस तरह की समस्या से निपटने का दावा करते हैं। लेकिन आप खुद देख सकते हैं कि डोंगरी में क्या हुआ है।’

ये भी पढ़े… 

मुंबई-पुणे में बारिश ने मचाई तबाही, सोमवार रात दीवार गिरने से 21 लोगों की हुई मौत

VIDEO : मुंबई में भारी बारिश के कारण गटर में समाई स्कूटी, लोगों ने BMC पर निकाली जमकर भड़ास

Related posts