आज है नागपंचमी, नाग देवता को करना है प्रसन्न तो इस विधि से करें पूजा, जानिए शुभ मुहूर्त

nageshwar panchami, nageshwar panchami 2020

चैतन्य भारत न्यूज

सावन माह के शुक्ल पक्ष की पांचवीं तिथि को नागपंचमी का पर्व मनाया जाता है। इस बार नाग पंचमी 13 अगस्त को है। आइए जानते हैं नागपंचमी की पूजा-विधि।

नाग पंचमी का शुभ मुहूर्त

नाग पंचमी पर पूजा का शुभ मुहूर्त 05 बजकर 49 मिनट से 08 बजकर 28 मिनट तक रहेगा।

नागपंचमी की पूजा-विधि

  • नागपंचमी के दिन सुबह स्नान करने के बाद घर के मुख्य द्वार के दोनों ओर पूजा के स्थान पर गोबर से नाग बनाएं।
  • इसके बाद दूध, दूब, कुशा, चंदन, अक्षत, पुष्प आदि से नाग देवता की पूजा करते हैं।
  • मान्यता है कि नाग देवता को सुगंध अति प्रिय है। इसलिए इस दिन नाग देव की पूजा सुगंधित पुष्प और चंदन से करनी चाहिए।
  • इसके बाद लड्डू और मालपूओं का भोग बनाकर उन्हें भोग लगाया जाता है।
  • कहा जाता है कि इस दिन सर्प को दूध से स्नान कराने से सांप का भय नहीं रहता है।

पूजा के दौरान इस मंत्र का जाप करें

सर्वे नागा: प्रीयन्तां मे ये केचित् पृथ्वीतले
ये च हेलिमरीचिस्था ये न्तरे दिवि संस्थिता:।
ये नदीषु महानागा ये सरस्वतिगामिन:
ये च वापीतडागेषु तेषु सर्वेषु वै नम:।

Related posts