NASA ने खोजा पृथ्वी जैसा एक और ग्रह, जहां जीवन संभव, पानी भी है मौजूद

चैतन्य भारत न्यूज

वॉशिंगटन. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) के वैज्ञानिकों के हाथ एक बड़ी कामयाबी लगी है। नासा ने पृथ्वी के आकार का रहने योग्य ग्रह खोज लिया है। इस गृह की सतह पर पानी भी मौजूद है।



अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) के वैज्ञानिकों ने पृथ्वी के आकार का रहने योग्य ग्रह खोज लिया है। खास बात यह है कि इसकी सतह पर तरल पानी भी मौजूद है। नासा ने इसका खुलासा एस्ट्रनॉमिकल सोसाइटी की 235वीं बैठक में किया। जानकारी के मुताबिक, नासा के वैज्ञानिकों ने यह ग्रह तक खोजा जब वे अंतरिक्ष में एलियन का निशान खोज रहे थे।


नासा के मुताबिक, यह ग्रह हमारे सौर मंडल से नजदीक है। इसकी दूरी करीब 100 प्रकाश वर्ष है। नासा के ट्रांजिटिंग एक्सोप्लैनेट सर्वे सैटेलाइट (TESS) और स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कोप (Spitzer Space Telescope) ने इस ग्रह की खोज की है। वैज्ञानिकों ने इस ग्रह का नाम TOI 700D रखा है।

यह ग्रह भी सूरज जैसे एक तारे TOI 700 के चारों तरफ चक्कर लगा रहा है। TOI 700 का वजन सूरज से आधा है और इसका तापमान भी सूरज से 40 फीसदी कम है। वैज्ञानिकों ने बताया कि, TOI 700 के चारों ओर कुल तीन ग्रह चक्कर लगा रहे हैं। इनमें से दो ग्रह तो बेहद दूर हैं। इनमें से एक ग्रह पथरीला है जबकि दूसरा गैसों से भरा है। लेकिन TOI 700D ग्रह सूरज के इतना नजदीक है कि वहां जीवन संभव है।

TOI 700D ग्रह पृथ्वी के मुकाबले 20 फीसदी ज्यादा बड़ा है। इस ग्रह की कक्षा बेहद छोटी है। यह अपने सूर्य की परिक्रमा मात्र 37 दिनों में कर लेता है, इसलिए यहां एक साल मात्र 37 दिनों को ही होता है। बता दें पृथ्वी को सूर्य की परिक्रमा पूरी करने में 365 दिन 6 घंटे लगते हैं। हालांकि, नासा के वैज्ञानिक फिलहाल TOI 700D ग्रह के वातावरण और सतह के तापमान और बनावट का मॉडल तैयार कर रहे हैं।

ये भी पढ़े…

वैज्ञानिकों ने की आकाशगंगा में नए ब्लैक होल की खोज, सूर्य से 70 गुना बड़ा है आकार

NASA ने ढूंढ लिया चांद की सतह पर विक्रम लैंडर का मलबा, क्रैश साइट से 750 मीटर दूर मिले 3 टुकड़े

भारत में दिखा सूर्य ग्रहण का अद्भुत नजारा, नासा ने जारी की चेतावनी

मिशन गगनयान में जाने वाले अंतरिक्ष यात्री बिना पानी के इस तरह नहाएंगे, नासा ने भी मांगी यह तकनीक

 

Related posts