NCP के वरिष्ठ नेता डीपी त्रिपाठी का निधन, लंबे समय से थे बीमार

dp tripathi,dp tripathi death

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता और पूर्व सांसद डीपी त्रिपाठी का लंबी बीमारी के बाद 67 साल की उम्र में निधन हो गया। वो लंबे समय से बीमार थे। डीपी त्रिपाठी के निधन पर एनसीपी नेता सुप्रिया सुले ने दुख जताया है।



सुप्रिया सुले ने ट्वीट कर कहा कि, ‘डीपी त्रिपाठी के निधन के बारे में सुनकर गहरा दुःख हुआ। वो एनसीपी के महासचिव थे। हम सभी के मार्गदर्शक और संरक्षक थे। हम उनके परामर्श और मार्गदर्शन को याद करेंगे, जो उन्होंने उस दिन से दिया था, जिस दिन एनसीपी की स्थापना हुई थी। उनकी आत्मा को शांति मिले।’

बता दें डीपी त्रिपाठी का जन्म उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में हुआ था। उन्होंने महज 16 साल की उम्र में राजनीति में कदम रखा था। वो पूर्व में दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) छात्र संघ के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। डीपी त्रिपाठी ने राजनीति की शुरुआत कांग्रेस से की थी, लेकिन सोनिया गांधी के विरोध में कांग्रेस छोड़कर एनसीपी ज्वॉइन कर ली थी।

डीपी त्रिपाठी विदेश मामलों की कमेटी, रेलवे कंवेन्शन कमेटी और हिंदी सलाहकार समिति के भी सदस्य रहे। उन्होंने कई किताबें भी लिखी, जिनमें प्ररूप, कांग्रेस एंड इंडिपेंडेंट इंडिया, जवाहर सतकाम, सेलिब्रेटिंग फैज और नेपाल ट्रांजिशन ए वे फॉरवर्ड समेत अन्य हैं।

Related posts