महंगा हुआ ताजमहल का दीदार, पुरातत्व विभाग ने किए ये बदलाव

चैतन्य भारत न्यूज

प्रेम के प्रतीक ताजमहल को बहुत देर तक निहारना पर्यटकों के लिए महंगा साबित हो गया है। भारतीय पुरातत्व विभाग ने ताजमहल में प्रवेश और यहां के कुछ नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। अब ताजमहल के दीदार के लिए समय सीमा तय हो गई है। साथ ही यहां प्रवेश करने का तरीका भी बदल दिया है।

टिकट स्कैन करने के बाद प्रवेश

नई व्यवस्था के अनुसार, ताजमहल में अब टर्न स्टाइल गेट से पर्यटकों को प्रवेश मिलना शुरू होगा। यहां टिकट स्कैन करने पर ही पर्यटकों को प्रवेश दिया जाएगा। इसके लिए एक मैग्नेटिक सिक्का आने वाला है जिससे ताज में प्रवेश मिल सकेगा। प्रवेश हो जाने के बाद पर्यटकों को ताजमहल के भीतर तीन घंटे ही रुकने दिया जाएगा। यदि कोई पर्यटक ताजमहल में तीन घंटे से ज्यादा रुकना चाहता है तो इसके लिए उसे अतिरिक्त चार्ज देना होगा। उन्हें अपने सिक्के को रिचार्ज करवाना होगा। सिक्का रिचार्ज करवाने के लिए ताज परिसर में ही रॉयल गेट पर काउंटर लगें हुए हैं।

अलग-अलग रंगों के होंगे सिक्के

इस नई व्यवस्था को लागू करने को लेकर एएसआई अधिकारियों का कहना है कि, ‘सिक्के वाला सिस्टम लागू करने से पहले कुछ बदलाव किए जा रहे हैं। इसके बाद से ही सिक्के दिए जाएंगे। सिक्कों के लिए टर्न स्टाइल गेट पर बॉक्स लगाए गए हैं।’ जानकारी के मुताबिक, सिक्कों का रंग अलग-अलग होगा। इनमें विदेशी पर्यटकों को नीले रंग का सिक्का, भारतीयों को ग्रे रंग का सिक्का और सार्क देशों के पर्यटकों को पीले रंग का सिक्का दिया जाएगा। इसके अलावा पांच साले के बच्चों के लिए जीरो वैल्यू का टिकट जारी होगा।

Related posts