परिवार ने फ्रीज में सालभर से रखा नूडल सूप खाया, 9 लोगों की मौत

चैतन्य भारत न्यूज

इस साल की शुरुआत से ही दुनिया कोरोना वायरस से जूझ रही है। चीन से नई-नई आने वाली खबरें दहलाती रहती हैं। अब सामने आया है कि चीन के एक परिवार के नौ सदस्यों की मौत हो गई, मौत की वजह बना एक नूडल सूप। ताया जा रहा है कि फ्रीज में करीब एक साल से नूडल रखा हुआ था जिसे खाने के बाद लोग बीमार पड़ गए।

पांच अक्टूबर को खाया था नूडल सूप

यह मामला चीन के नॉर्थ-ईस्ट रीजन के हिलोजियांग प्रांत का है। जानकारी के मुताबिक, घर में बने नूडल सूप खाने एक ही परिवार के नौ लोगों की मौत हो गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, परिवार के सदस्यों ने जो नूडल सूप खाया था वह एक साल से फ्रीजर में रखा था। इसे खाते ही कुछ ही घंटों के अंदर 9 लोगों की हालत बिगड़ गई। फिर उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां एक-एक करके उनकी मौत हो गई। इस नूडल सूप को पांच अक्टूबर को खाया गाया था। 10 अक्टूबर को सात लोगों को मृत घोषित कर दिया गया था। जबकि आठवें शख्स की मौत दो दिन के बाद हुई। आखिरी शख्स की मौत सोमवार को हुई।

क्यों हुई मौत?

जानकारी के मुताबिक, नूडल सूप को कॉर्नफ्लोर से तैयार किया गया था। फ्रीजर में सालभर तक रखने के कारण नूडल सूप खराब हो चुका था। 5 अक्टूबर को नाश्ते के लिए परिवार के 12 सदस्य मौजूद थे। उनमें से 3 सदस्यों ने सूप का टेस्ट पसंद न आने पर खाने से इंकार कर दिया था, इसलिए उनकी जान बच गई। चीनी अधिकारियों के मुताबिक, मामले की जांच में सामने आया है कि घर के सदस्यों जो नूडल सूप खाया था उसमें बॉन्गक्रेकिक एसिड की मात्रा अधिक थी, जो फूड पॉइजनिंग की वजह बना। बॉन्गक्रेकिक एसिड ने खाने को जहरीला बनाने का काम किया है। यह फर्मेंटेड मैदा और चावल से जुड़े फूड में पाई जाती है। बॉन्गक्रेकिक एसिड जिस भी खाने में मौजूद है उसे गर्म करने पर भी इसका असर खत्म नहीं होता।

 

Related posts