निर्भया केस में चारों दोषियों की एक बार फिर टली फांसी, कोर्ट ने कहा- अभी फांसी नहीं दी जा सकती

nirbhaya case,nirbhaya kand,

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. निर्भया सामूहिक दुष्कर्म केस में सोमवार को चारों दोषियों की फांसी तीसरी बार टल गई है। कोर्ट ने फांसी पर रोक लगाते हुए कहा कि जब पवन कुमार गुप्ता की दया याचिका राष्ट्रपति के पास लंबित है तो फांसी नहीं दी जा सकती है।



जानकारी के मुताबिक, निर्भया के दोषी पवन के वकील एपी सिंह ने एक बार फिर पटियाला हाउस कोर्ट में याचिका दायर की थी। इस याचिका में डेथ वारंट पर रोक लगाने की मांग की गई थी। दलील थी कि दोषी पवन ने राष्ट्रपति के सामने दया याचिका लगाई है। राष्ट्रपति के पास याचिका लंबित है, इसलिए फांसी नहीं दी जा सकती।

कोर्ट ने कहा कि, राष्ट्रपति के पास दोषी की दया याचिका लंबित है, इसलिए 3 मार्च 2020 को सुबह 6 बजे दोषियों को होने वाली फांसी अगले आदेश तक रोकी जा रही है। कोर्ट के आदेश की कॉपी दोषियों को अनिवार्य सूचना के तौर पर दे दी गई है। पवन गुप्ता की क्यूरेटिव पिटिशन पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी थी।

तीन बार डेथ वारंट रद्द

बता दें, इस आदेश के साथ ही दिल्ली का पटियाला हाउस कोर्ट अब तक तीन बार डेथ वारंट पर रोक लगा चुका है। फांसी देने की पहली तारीख 22 जनवरी थी, फिर इस पर रोक लगाई गई। इसके बाद दूसरी तारीख 1 फरवरी तय की गई। इसका डेथ वारंट भी रद्द किया गया। इसके बाद तीसरी तारीख 3 मार्च थी, जिसे सोमवार को रद्द किया गया। ऐसे में इन दोषियों की तीसरी बार फांली टाले जाने पर निर्भया के मां-पिता समेत गांव वाले नाराज हैं।

क्या है मामला?

16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में 23 वर्षीय निर्भया का सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। दुष्कर्म के दौरान निर्भया के साथ हैवानों ने ऐसी दरिंदगी की थी कि पूरे देश में लोग आंदोलन करने पर उतर गए थे। इस मामले में एक किशोर सहित छह लोगों को आरोपी बनाया गया था। जिसमें से एक दोषी राम सिंह ने मुकदमा शुरू होने के बाद तिहाड़ जेल में आत्महत्या कर ली थी। जबकि एक नाबालिग 3 साल सुधारगृह में गुजारने के बाद रिहा हो गया था। वहीं बाकी चार मुकेश कुमार सिंह (32), पवन कुमार गुप्ता (25), विनय कुमार शर्मा (26) और अक्षय कुमार सिंह (31) को फांसी देने की तारीख 3 मार्च सुबह 6 बजे तय की थी।

ये भी पढ़े…

निर्भया केस: कोर्ट का नया डेथ वारंट जारी करने से इनकार, कहा- जब कानून जिंदा रहने की इजाजत देता है तो फांसी देना पाप

निर्भया केस: फांसी से बचने के लिए दोषी विनय ने चली नई चाल, दीवार से फोड़ा अपना सिर

निर्भया केसः फिर टली निर्भया के दोषियों की फांसी! SC 5 मार्च को करेगा केंद्र सरकार की याचिका पर सुनवाई

Related posts