निर्भया केस: सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की दोषी विनय की याचिका, कहा- मानसिक हालत बिलकुल ठीक है

vinay sharma

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. साल 2012 में हुए निर्भया सामूहिक दुष्कर्म के मामले में दोषी विनय की याचिका को शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। बता दें विनय ने राष्ट्रपति द्वारा अपनी दया याचिका अस्वीकृत कर दिए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी।



सुप्रीम कोर्ट ने अपने निर्णय में कहा कि, ‘मेडिकल रिपोर्ट्स के अनुसार, दोषी विनय मानसिक तौर पर पूरी तरह स्वस्थ है। इसके अलावा उसकी मेडिकल स्थिति भी पूरी तरह स्थिर है।’ सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा कि, विनय की शारीरिक हालत भी ठीक है। बता दें विनय ने अपनी याचिका में मानसिक हालत ठीक नहीं होने की दलील दी थी। साथ ही उसने यह भी आरोप लगाया था कि, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सामने उसके सभी दस्तावेज नहीं रखे गए थे। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने विनय की इन दलीलों को खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि राष्ट्रपति के सामने सभी दस्तावेज रखे गए थे।

जस्टिस आर भानुमति, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस ए। एस। बोपन्ना की पीठ ने विनय की दलीलों को खारिज करते हुए कहा कि, ‘हमने सारी फाइलें देखकर विचार किया है। इसलिए दोषी विनय की इस दलील को खारिज किया जाता है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उसके सारे दस्तावेज नहीं देखे।’

गौरतलब है कि दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने गुरुवार को निर्भया के दोषियों को फांसी देने के लिए नए डेथ वारंट जारी करने की मांग वाली याचिका पर 17 फरवरी तक के लिए सुनवाई स्थगित कर दी थी। कोर्ट का कहना था कि, निर्भया के दोषी आखिरी सांस तक कानूनी उपायों का इस्तेमाल करने के हकदार हैं। उनके मौलिक अधिकारों की अनदेखी नहीं की जा सकती है।

ये भी पढ़े…

डेथ वारंट जारी न होने पर रो पड़ीं निर्भया की मां, कोर्ट के बाहर जमकर की नारेबाजी

निर्भया केस: कोर्ट का नया डेथ वारंट जारी करने से इनकार, कहा- जब कानून जिंदा रहने की इजाजत देता है तो फांसी देना पाप

निर्भया केसः दोषियों को अलग-अलग फांसी देने वाली याचिका पर सुनवाई टली, SC ने चारों दोषियों को भेजा नोटिस

Related posts