निर्भया केस: फांसी से बचने के लिए दोषी विनय ने चली नई चाल, दीवार से फोड़ा अपना सिर

vinay sharma

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के दोषियों के खिलाफ तीसरा डेथ वारंट जारी हो चुका है। कोर्ट ने दोषियों की फांसी 3 मार्च को देना तय किया है। चारों दोषी फांसी से बचने के लिए नए-नए तरीके अपना रहे हैं। 16 फरवरी को दोषी विनय शर्मा ने खुद को घायल कर लिया।


निर्भया केस: दोषी विनय शर्मा ने की शौचालय में आत्महत्या की कोशिश, सुरक्षाकर्मियों ने इस तरह बचाया

दीवार से फोड़ा सिर

तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने बताया कि, फांसी एक बार फिर टालने के लिए विनय ने खुद को चोट पहुंचाने की कोशिश की। उसने दीवार से अपना सिर फोड़ लिया है, जिसमें उसे चोट आई है। विनय को जेल के बैरक नंबर 3 में रखा गया है। वह दोबारा और जोर से ऐसा कर कुछ पाता तब तक बाहर खड़े सिपाही ने उसे रोक लिया। घटना के बाद उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के बाद उसे वापस जेल भेज दिया गया।

निर्भया केसः दोषी विनय के वकील का दावा- उसे तिहाड़ में दिया गया धीमा जहर

वकील बोले- विनय की मानसिक हालत ठीक नहीं

कहा जा रहा है कि फांसी रोकने के लिए विनय हर दिन नई-नई चाल चल रहा है। वह खुद को अनफिट करने की कोशिश में है, ताकि उसकी फांसी टल जाए। घटना के बाद से ही चारों दोषियों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। इस मामले में दोषियों के वकील एपी सिंह का कहना है कि, ‘नया डेथ वारंट जारी होने के बाद से विनय की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। उसने अपनी मां को भी पहचानने से मना कर दिया।’ वहीं जेल अधिकारियों ने इस बात से साफ इनकार किया और कहा कि विनय की हालत ठीक है।

टाली जा सकती है फांसी

दावा किया गया है कि तीसरा डेथ वॉरंट जारी होने के बाद से ही चारों दोषियों का व्यवहार पहले से ज्यादा हिंसक हो गया है। उन्हें छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आ जाता है। जेल कर्मचारी सीसीटीवी के जरिए चारों पर पूरी नजर रखे हुए हैं। बता दें यदि फांसी से पहले दोषी को चोट लग जाती है या वह स्वस्थ नहीं होता है तो कुछ वक्त के लिए फांसी को टाला जा सकता है।

निर्भया केस: सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की दोषी विनय की याचिका, कहा- मानसिक हालत बिलकुल ठीक है

कब होगी फांसी?

कोर्ट ने निर्देश दिया था कि चारों दोषियों -मुकेश कुमार सिंह (32), पवन गुप्ता (25), विनय कुमार शर्मा (26) और अक्षय कुमार (31) को तीन मार्च को सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगए। जब तक उनकी मौत नहीं हो जाती उन्हें तब तक लटके रहने दिया जाएगा। कोर्ट के आदेश के बाद निर्भया की मां आशा देवी ने उम्मीद जताई थी कि चारों दोषियों को 3 मार्च को फांसी पर लटका दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि, ‘हम आशा करते है कि इस आदेश को आखिरकर लागू किया जाएगा।’

ये भी पढ़े… 

निर्भया केस: दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी, अब 3 मार्च को सुबह 6 बजे होगी फांसी

निर्भया केस: सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की दोषी विनय की याचिका, कहा- मानसिक हालत बिलकुल ठीक है

डेथ वारंट जारी न होने पर रो पड़ीं निर्भया की मां, कोर्ट के बाहर जमकर की नारेबाजी

Related posts