निर्भया कांड : राष्ट्रपति को दया याचिका भेजने के लिए दोषियों के पास 7 दिन शेष, फांसी देने की तैयारी शुरू

nirbhaya rapist

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. 16 दिसंबर 2012 की रात को हुए निर्भया रेप कांड ने देश भर को झकझोर कर रख दिया था। इसे 7 साल पूरे होने जा रहे हैं। इस समय निर्भया कांड के दोषियों को सजा देने की तैयारियां चल रही है। तिहाड़ जेल के अधिकारियों के मुताबिक, दोषियों की ओर से दया याचिका भेजे जाने में सिर्फ 7 दिन का समय बचा है। यदि इस बीच राष्ट्रपति को दया याचिका नहीं भेजी जाती तो निचली अदालत को अर्जी भेजकर जेल प्रशासन दोषियों को फांसी देने की तैयारी शुरू कर देगा।



तिहाड़ जेल प्रशासन के अधिकारियों ने चारो दोषियों मुकेश सिंह, अक्षय कुमार सिंह, विनय शर्मा और पवन कुमार को नाेटिस देकर कहा है कि मृत्युदंड के खिलाफ अगर सात दिन में राष्ट्रपति के पास दया याचिका नहीं लगाई ताे फांसी की कार्यवाही शुरू कर दी जाएगी। लेकिन अब तक दोषियों के वकील द्वारा राष्ट्रपति को दया याचिका नहीं भेजी गई है। बता दें सुप्रीम काेर्ट ने पिछले साल जुलाई में ही चाराें दोषियों की पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया था।

जेल प्रशासन का कहना है कि, राष्ट्रपति के यहां दया याचिका भेजे जाने के लिए दोषियों के पास सिर्फ 7 दिन बचे हैं और इस बात की जानकारी उन्हें दे दी गई है। बुधवार को उन्हें ये फरमान पढ़कर भी सुना दिया गया है। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई है। इतना ही नहीं लिखित तौर पर रिसीविंग भी आरोपियों से ले ली गई है। बता दें निर्भया दुष्कर्म कांड के दो दोषी अक्षय कुमार और मुकेश तिहाड़ जेल नंबर 2 में हैं। जबकि विनय जेल नंबर चार और पवन जेल नंबर 14 (मंडोली जेल) में बंद है।

यह भी पढ़े…

रोंगटे खड़े कर देगी अलवर में हुए गैंगरेप की कहानी, 3 घंटे तक दरिंदों ने पति के सामने किया पत्नी का बलात्कार

कठुआ रेप-मर्डर केस : 6 में से तीन दोषियों को उम्रकैद, तीन को 5-5 साल की सजा और 50 हजार जुर्माना

8 साल की मासूम से रेप और हत्या के दोषी को कोर्ट ने दी फांसी की सजा, 32 दिन में आया फैसला

Related posts