फांसी का खौफ, निर्भया के दोषियों का वजन घटने लगा, अन्य कैदियों से बंद की बातचीत

nirbhaya case,Hanging Of A Criminal Of Nirbhaya,

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. निर्भया के दोषियों की फांसी को लेकर देशभर में हलचल तेज हो गई है। चारों दोषियों को तिहाड़ जेल लाया जा चुका है। जेल प्रशासन ने भी उनकी फांसी की तैयारियां शुरू कर दी हैं। मौत को करीब आते देख चारों दोषियों की नींद उड़ चुकी है। उन्होंने ठीक से खाना-पीना भी बंद कर दिया है।



खबरों के मुताबिक, उन्हें भनक लग गई है कि उन्हें जल्द फांसी दी जाने वाली है। तिहाड़ जेल प्रशासन की तैयारी से चारों के चेहरे पर खौफ साफ देखा जा रहा है। बुधवार से चारों कैदियों की दिन में दो बार डॉक्टरी जांच हो रही है। डॉक्टरों का कहना है कि, पिछले 5 दिनों में कैदियों के वजन में भी कमी दर्ज की गई है। हालांकि उनका ब्लड प्रेशर सामान्य है। चारों कैदी अक्षय, मुकेश, पवन और विनय को पहले के मुकाबले अब भूख कम लग रही है।

दोषियों का वजन घटा 

अक्षय का वजन 5 दिनों में 55 से घटकर 52 किलोग्राम हो गया है, वहीं पवन 82 से अब 81 किग्रा का हो गया है। जबकि मुकेश का वजन जस का तस है। वह 67 किग्रा का है। तीनों कैदियों का ब्लड प्रेशर 80-90/120-130 के आसपास है। जानकारी के मुताबिक, अक्षय, मुकेश और पवन एक ही सेल में बंद हैं। वहीं जेल-4 में बंद विनय की हालत कुछ खराब है। पिछले 15 से 20 दिनों में उसके स्वास्थ्य में सबसे ज्यादा गिरावट है। उसने साथी कैदियों से बातचीत बंद कर दी है।

तिहाड़ जेल में पहली बार चार दोषियों को फांसी होगी 

कहा जा रहा है कि ये तीनों आम कैदियों की तरह सुबह 6 बजे जागने के बाद नाश्ता करके अपने-अपने काम पर 8 बजे चले जाते थे, लेकिन 5 दिनों से अपने वाॅर्ड में ही हैं। हमले की आशंका के चलते चारों कैदियों की निगरानी के लिए दो-दो जवान तैनात रहते हैं। ऐसा पहली बार हो रहा है जब तिहाड़ जेल में एक साथ चार दोषियों को फांसी दी जाएगी। आखिरी बार 31 जनवरी 1982 में रंगा-बिल्ला को एक साथ फांसी दी गई थी।

13 दिसंबर को चारों दोषियों की पेशी होगी

जेल के अधिकारिक सूत्रों का कहना है कि तिहाड़ प्रशासन एक साथ चार दोषियों को फांसी देने को लेकर तैयारी कर रहा है। इससे पहले पुणे के यड़बड़ा जेल में वर्ष 1983 में दस लोगों की हत्या के चार दोषियों को एक साथ फांसी दी गई थी। बता दें 13 दिसंबर को चारों दोषियों की वीडियो कॉन्फ्रेेंसिंग से पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी होगी।

ये भी पढ़े…

पीढ़ियों से लोगों को फांसी दे रहा है यह जल्लाद परिवार, भगत सिंह-कसाब को भी फंदे पर लटका चुका है, अब निर्भया के दोषियों की बारी

मौत करीब आते देख निर्भया के दोषी को याद आए वेद पुराण, फांसी से बचने के लिए कहा- दिल्ली गैस चैम्बर, प्रदूषण से ही मर जाऊंगा

निर्भया केस : फांसी की तैयारियों के बीच सुप्रीम कोर्ट पहुंचा दोषी अक्षय कुमार, छोड़ दिया है खाना-पीना

Related posts