निर्भया केस : चारों दोषियों की कल कोर्ट में होगी पेशी, 17 दिसंबर को पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई तय

nirbhaya gang rape,nirbhaya,nirbhaya case

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. निर्भया सामूहिक दुष्कर्म केस के चारों दोषियों को शुक्रवार यानी कल पटियाला कोर्ट में पेश किया जाएगा। पिछली सुनवाई के दौरान कोर्ट ने जेल प्रशासन को दोषियों को पेश करने का आदेश दिया था।



जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार को दोषियों की वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए पेशी होगी। निर्भया के चारों दोषियों के वकील सुबह पटियाला हाउस कोर्ट में हलफनामा दाखिल करेंगे और फिर उसके बाद इस मामले में सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए की जाएगी। सूत्रों के मुताबिक, चारों दोषियों में से एक अक्षय कुमार सिंह की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट ने 17 दिसंबर की तारीख तय की है।

बता दें पटियाला हाउस कोर्ट के जज सतीश कुमार अरोड़ा ने तिहाड़ जेल से कहा कि सुबह 10 बजे इस मामले में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम में ही सुनवाई पूरी होगी। सभी दोषियों की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कराने की वजह उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करना है। इसीलिए कोर्ट और तिहाड़ प्रशासन दोनों की सहमति के बाद ये किया गया है। इस सुनवाई में निर्भया के माता-पिता और उसके वकील भी मौजूद होंगे।

वहीं तिहाड़ जेल में बंद चारों दोषियों (अक्षय, मुकेश, विनय और पवन) को फांसी की भनक लग गई हो। अब उनकी नींद उड़ चुकी है, घबराहट में उनका खाना-पीना तक छूट गया है। इन पर जेलकर्मियों के अलावा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल व तमिलनाडु पुलिस के जवान चौबीस घंटे नजर रख रहे हैं। जेल सूत्रों के मुताबिक, इसकी बड़ी वजह इस बात की आशंका है कि घबराहट की स्थिति में कोई कैदी खुद को नुकसान या आत्महत्या की कोशिश जैसे कदम न उठा लें।

ये भी पढ़े…

फांसी का खौफ, निर्भया के दोषियों का वजन घटने लगा, अन्य कैदियों से बंद की बातचीत

पीढ़ियों से लोगों को फांसी दे रहा है यह जल्लाद परिवार, भगत सिंह-कसाब को भी फंदे पर लटका चुका है, अब निर्भया के दोषियों की बारी

मौत करीब आते देख निर्भया के दोषी को याद आए वेद पुराण, फांसी से बचने के लिए कहा- दिल्ली गैस चैम्बर, प्रदूषण से ही मर जाऊंगा

Related posts