निर्भया कांड : दिशा के बाद निर्भया को मिलेगा न्याय? गृह मंत्रालय ने राष्ट्रपति को भेजी दया याचिका की फाइल

nirbhaya case,

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. हैदराबाद की दिशा के बाद अब निर्भया को इंसाफ मिल सकता है। निर्भया केस में गुनाहगार विनय शर्मा की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश गृह मंत्रालय ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से की है। दोषियों ने दिल्ली सरकार के सामने अपनी दया याचिका लगाई थी। इस दया याचिका को खारिज करते हुए दिल्ली सरकार ने अपनी रिपोर्ट गृह मंत्रालय को भेज दी थी।



दिल्ली सरकार का कहना था कि जघन्य अपराधी को बख्शा नहीं जा सकता। दोषी को सजा देने से समाज में एक संदेश जाएगा, ताकि भविष्य में इस तरह की घटना के बारे में कोई सोच भी न सके। इस मामले में तिहाड़ के महानिदेशक संदीप गोयल के मुताबिक, ‘निर्भया मामले के एक दोषी विनय शर्मा ने दया याचिका दी है। तिहाड़ ने इसे दिल्ली सरकार को भेजा है। दिल्ली सरकार ने इसे उपराज्यपाल को भेज दिया और फिर ये गृह मंत्रालय से होता हुआ राष्ट्रपति तक पहुंचा है।’

अब सबकी निगाहें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पर हैं कि वह दया याचिका को स्वीकार करते हैं या खारिज कर देते हैं। वहीं इससे पहले दिशा के आरोपितों का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया गया। पुलिस के दावे के मुताबिक, क्राइम सीन रीक्रिएट करने के दौरान आरोपी हथियार छीन कर भाग रहे थे।

ये भी पढ़े…

हैदराबाद एनकाउंटर पर उठ रहे सवाल, लोगों ने कहा- तेलंगाना पुलिस यह शर्मनाक, पुलिस के खिलाफ की FIR दर्ज करने की मांग

हैदराबाद : एनकाउंटर मैन के नाम से मशहूर हैं कमिश्नर सज्जनार, एसिड अटैक के आरोपितों का भी किया था बुरा हाल

बक्सर में हुई हैदराबाद जैसी हैवानियत, दुष्कर्म के बाद युवती को जलाने का प्रयास

Related posts