निर्भया सामूहिक दुष्कर्म के दोषियों को फांसी देने की तैयारी शुरू, 16 दिसंबर को मिल सकती है फांसी

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. 16 दिसंबर 2012 में हुए निर्भया सामूहिक दुष्कर्म के दोषियों को फांसी देने की तैयारी शुरू हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक, जिस जगह दोषियों को फांसी दी जानी है, वहां साफ-सफाई का काम शुरू हो गया है। जानकारी के अनुसार, एक दोषी विनय शर्मा ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास दया याचिका दाखिल की थी, जिसे गृह मंत्रालय ने नामंजूर करने की सिफारिश की है।


16 दिसंबर को दी जा सकती है फांसी

बता दें हैदराबाद की महिला डॉक्टर के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और जलाने की हत्या का मामला सामने आने के बाद से ही निर्भया के दोषियों को भी फांसी देने की मांग तेज हो गई है। जानकारी के मुताबिक, मामले के दोषी पवन को मंडोली जेल से तिहाड़ शिफ्ट किया गया है। दोषियों को 16 दिसंबर को सभी को फांसी दी जा सकती है। बता दें निर्भया गैंगरेप के 6 आरोपितों में से एक की जेल में ही मौत हो गई है, जबकि एक नाबालिग दोषी सजा काटकर जेल से बाहर आ चुका है। बचे 4 आरोपितों की दया याचिका राष्ट्रपति के पास लंबित है। ऐसे में उनके खिलाफ आगे की कार्रवाई नहीं की जा सकी है।

पवन जल्लाद ने की दोषियों को फांसी देने की मांग

अब उम्मीद की जा रही है कि गृह मंत्रालय की सिफारिश के बाद राष्ट्रपति जल्द ही दया याचिका पर फैसला लेंगे। माना जा रहा है कि मेरठ के पवन जल्लाद को ही निर्भया कांड के दोषियों की फांसी की जिम्मेदारी दी जाएगी।
हालांकि, अभी तक आधिकारिक तौर पर पवन से इसके लिए संपर्क नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि पवन ने भी निर्भया कांड के दोषियों को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग उठाई है। उन्होंने कहा कि, ‘ऐसे जघन्य कांड के गुनहगारों को फांसी ही देनी चाहिए, ताकि दूसरे अपराधी भी इसको देखकर डर जाएं। उनके मन में भी ऐसा अपराध करने से पहले फांसी का खौफ रहे।’

फांसी देने से पहले होता है ट्रायल

पवन जल्लाद ने बताया कि फांसी से पहले ट्रायल किया जाता है, जिससे कि उस समय कोई गलती न हो और फांसी के फंदे पर जाने के बाद कोई भी अपराधी बिना मरे वापस न आए। पवन जल्लाद ने यह भी मांग की है कि, निर्भया कांड के आरोपितों को कोर्ट फांसी दे और उन्हें फांसी देने का मौका दिया जाए।

ये भी पढ़े…

निर्भया कांड : दिशा के बाद निर्भया को मिलेगा न्याय? गृह मंत्रालय ने राष्ट्रपति को भेजी दया याचिका की फाइल

निर्भया कांड : राष्ट्रपति को दया याचिका भेजने के लिए दोषियों के पास 7 दिन शेष, फांसी देने की तैयारी शुरू

जहां महिला डॉक्टर के साथ हुई दरिंदगी, पुलिस ने उसी जगह चारों आरोपितों को मार गिराया, जानें पूरी कहानी

Related posts