ओमान के सुल्तान के निधन पर भारत में राष्ट्रीय शोक का ऐलान, यह बने देश के नए सुल्तान

sultan qaboos bin said narendra modi

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. शुक्रवार देर रात ओमान के सुल्तान काबूस बिन सईद का निधन हो गया। वह पिछले काफी समय से कैंसर से पीड़ित थे। सुल्तान काबूस बिन सईद के निधन के बाद ओमान के रॉयल कोर्ट के दीवान ने 3 दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की थी। सुल्तान की मौत पर भारत में भी गृह मंत्रालय ने एक दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है।


पीएम मोदी ने जताया दुख 

बता दें भारत में सोमवार यानी 13 जनवरी को एक दिन का राष्ट्रीय शोक रखा जाएगा। इस दौरान भारतीय ध्वज आधे झुके रहेंगे। साथ ही कोई भी आधिकारिक कार्यक्रम नहीं किया जाएगा। सुल्तान काबूस के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताते हुए उन्हें क्षेत्रीय शांति का प्रतीक बताया था। पीएम मोदी ने एक ट्वीट किया था जिसमे लिखा था कि, ‘महामहिम सुल्तान काबूस बिन सईद अल सईद के निधन के बारे में जानकर मुझे गहरा दुख हुआ है। वह एक दूरदर्शी नेता थे, जिन्होंने ओमान को एक आधुनिक और समृद्ध राष्ट्र में बदल दिया। सुल्तान काबूस भारत के सच्चे दोस्त थे और उन्होंने भारत तथा ओमान के बीच साझेदारी को मजबूत बनाने में सशक्त भूमिका निभाई।’

यह बने ओमान के नए सुल्तान

बता दें सुल्तान काबूस के जाने के बाद उनके चचेरे भाई हैसम बिन तारिक को ओमान का नया सुल्तान बनाया गया है। हैसम बिन तारिक ने नए सुल्तान के रूप में शपथ भी ले ली है। ओमान की सरकारी एजेंसी ने ट्वीट कर कहा कि, ‘हैसम बिन तारिक ने देश के नए सुल्तान के रूप में शपथ ली। परिवार ने आपस में बातचीत के बाद उन्हीं को नया शासक बनाने का फैसला लिया, जिन्हें सुल्तान ने चुना था।’

अपने ही पिता का तख्तापलट किया

18 नवंबर 1940 को सलालाह में जन्में काबूस बिन सईद ने 1970 में अपने पिता सईद बिन तैमूर का तख्तापलट कर ओमान की राजगद्दी संभाली थी। उस समय ओमान काफी पिछड़ा था। काबूस बिन सईद ने जिस वक्त सत्ता संभाली, तब पूरे ओमान में सिर्फ 3 स्कूल ही थे। सड़कें भी कुछ ही किलोमीटर तक बनी थी। लेकिन कुछ ही समय में काबूस बिन सईद ने ओमान का कायापलट कर दिया। काबूस बिन सईद ने ओमान के तेल और गैस के भंडारों से कमाई की। उन्हें ओमान की तस्वीर बदलने वाला शासक भी कहा जाता है।

यह भी पढ़े…

ओमान के सुल्तान काबूस बिन सईद का निधन, मौत से पहले दुनिया के लिए एक लिफाफे में छोड़ गए ‘सस्पेंस’

Related posts