केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, प्याज के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाई रोक

onion ,export policy ,ministry of commerce and industry

चैतन्य भारत न्यूज

देश में प्याज की कीमतें काफी बढ़ गई हैं। लोग 80-90 रुपए प्रति किलो की दर से प्याज खरीदने को मजबूर हैं। इतना ही नहीं बल्कि प्याज के दाम में आए दिन इजाफा हो रहा है। अब इसी बीच खबर आई है कि केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने प्याज की निर्यात नीति में अगले आदेश तक संशोधन कर दिया है। जिसके कारण प्याज के सभी किस्मों के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है।



देशभर में प्याज की किल्लत के बाद इसकी कीमतों में भारी उछाल को देखते हुए इसके निर्यात पर रोक लगाने का फैसला लिया गया है। इससे पहले केंद्रीय खाद्य आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान ने कहा था कि, केंद्र के पास पर्याप्त मात्रा में प्याज का स्टॉक है और वह इसे विभिन्न राज्यों में आपूर्ति करने जा रही है, जिससे कीमतें घटेंगी। फिलहाल इसका 50 हजार टन का बफर स्टॉक मौजूद है, जिससे मंडियों में आवक को बढ़ाया जा रहा है।

 

25 सितंबर को जारी किए उपभोक्ता मामले मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली, मुंबई और लखनऊ जैसे शहरों में खुदरा प्याज की कीमत 60 रुपए किलो है। जबकि मुंबई में 58 रुपए किलो और चेन्नई में 42 रुपए किलो बेचा जा रहा है। वहीं कानपुर में, प्याज की कीमत 70 रुपए किलो और पोर्ट ब्लेयर में 80 रुपए किलो है।

महाराष्ट्र जैसे बाढ़ प्रभावित उत्पादक राज्यों से आपूर्ति बाधित होने से पिछले एक महीने से प्याज की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। बता दें केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने रविवार को जानकारी देते हुए कहा कि प्याज के संकट को देखते हुए सरकार ने निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है।

यह भी पढ़े…

कीमतें आसमान छूते ही चोरों ने 8.5 लाख रुपए के प्याज किए चोरी, ढूंढ रही पुलिस

Related posts