ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी में जुड़ा ‘आत्मनिर्भर भारत’ शब्द, चुना गया हिंदी वर्ड ऑफ द ईयर

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. ‘ऑक्सफोर्ड लैंग्विजेज ने ‘आत्मनिर्भर भारत’ को 2020 का हिंदी भाषा का शब्द घोषित किया गया है। यह शब्द भाषा विशेषज्ञों कृतिका अग्रवाल, पूनम निगम सहाय और इमोगन फॉक्सेल के एक सलाहकार पैनल द्वारा चुना गया है।

‘ऑक्सफोर्ड हिंदी शब्द’ से यहां तत्पर्य ऐसे शब्द से है, जो पिछले साल के लोकाचार, मनोदशा या स्थिति को प्रतिबिंबित करे और जो सांस्कृतिक महत्व के एक शब्द के रूप में लंबे समय तक बने रहने की क्षमता रखता हो। ‘ऑक्सफोर्ड लैंग्विज’ ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब कोविड-19 से निपटने के लिए पैकेज की घोषणा की थी, तो उन्होंने वैश्विक महामारी से निपटने के लिए देश को एक अर्थव्यवस्था के रूप में, एक समाज के रूप में और व्यक्तिगत तौर पर आत्मनिर्भर बनाने पर जोर दिया था। इसके बाद ही ‘आत्मनिर्भर भारत’ शब्द का इस्तेमाल भारत के सार्वजनिक शब्दकोष में एक वाक्यांश और अवधारणा के रूप में काफी बढ़ गया।

आत्मनिर्भरता का मतलब?

आत्मनिर्भरता दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है आत्म + निर्भर, यानि खुद पर निर्भर होना। देश के लिए आत्मनिर्भर होने का अर्थ है कि किसी भी जरूरी सामान और सेवाओं के लिए देश को किसी दूसरे देश पर निर्भर न होना पड़े।

बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में लगातार आत्मनिर्भर भारत पर जोर दिया जा रहा है। कोविड-19 महामारी के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने आर्थिक पैकेज के लिए जब ऐलान किया तो उसी वक्त उन्होंने आत्मनिर्भर भारत पर जो दिया। देश को सशक्त, स्वावलंबी और आत्म निर्भर बनाने के लिए इस अभियान की शुरुआत हुई थी।

Related posts