कंगाल पाकिस्तान ने जनता से कहा- मुल्क चलाने के लिए पैसे नहीं, 30 जून से पहले टैक्स भरें

imran khan,pakisatan,pakistan pm imran khan

चैतन्य भारत न्यूज

इस्लामाबाद. घोर वित्तीय संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देशवासियों से 30 जून तक टैक्स चुकाने और साथ ही अपनी अघोषित संपत्तियों का खुलासा करने का आदेश दिया है। इमरान खान ने यह घोषणा इसलिए की ताकि उन्हें वैध और बेनामी संपत्ति का फर्क पता चल सके।

इमरान ने जनता से कहा कि, सभी लोग अपनी संपत्ति की घोषणा कर देश के विकास में योगदान करें क्योंकि इस समय पाकिस्तान गंभीर वित्तीय संकट से जूझ रहा है।’ इमरान ने यह बात पाकिस्तान के 2019-20 के बजट पेश होने से पहले राष्ट्र को संबोधित करते हुए कही। इमरान ने यह भी कहा कि, ‘अगर हमें महान देश बनना है तो हमें खुद को बदलना होगा।’ उन्होंने कहा, ‘पिछले 10 सालों में पाकिस्तान पर कर्ज 6 हजार करोड़ से बढ़कर 30 हजार करोड़ तक पहुंच चुका है। इन हालातों से निकलने के लिए हमें जल्द से जल्द कोई फैसला लेना होगा।’

इमरान ने कहा, ‘आप सभी से मैं यह गुजारिश करता हूं कि हम जो आय घोषणा योजना लाए हैं आप उसका हिस्सा बनें। अगर हम टैक्स नहीं भरेंगे तो अपने देश को आगे नहीं बढ़ा पाएंगे।अपनी बेनामी संपत्ति, बेनामी बैंक खाते और विदेशों में रखे धन की घोषणा करने के लिए आपके पास 30 जून तक का समय है।’ पाक पीएम ने कहा, ‘हमारी सरकार के पास वो सूचना है जो पहले किसी भी सरकार के पास नहीं थी। विदेशों में पाकिस्तानियों की संपत्ति और बैंक अकाउंट की सूचना मेरे पास है।’

गौरतलब है कि, इन दिनों पाकिस्तान की हालत कितनी ज्यादा खराब है, इसकी पोल बजट से पहले पेश होने वाले आर्थिक सर्वेक्षण ने ही खोल दी। उम्मीद की जा रही है, पाकिस्तान तीन ट्रिलियन रुपए के घाटे का बजट पेश करने वाला है। उनका पिछला बजट 1.8 ट्रिलियन रुपए का था। सूत्रों के मुताबिक, इमरान पर ईएमएफ का दबाव है कि, वह टैक्स कलेक्शन बढ़ाए। शायद इसलिए इमरान ने अपने नागरिकों को 30 जून तक का अल्टीमेटम दिया है।

Related posts