आर्टिकल 370 हटाने पर आगबबूला हुआ पाकिस्तान, कह दी ऐसी बात

pakistan,imran khan,

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. केंद्र सरकार द्वारा सोमवार को जम्मू-कश्मीर को लेकर लिए गए ऐतिहासिक फैसले पर हाल ही में पाकिस्तान की पहली प्रतिक्रिया आई है। मोदी सरकार के फैसले से पाकिस्तान बौखला गया है। पाकिस्तान ने आर्टिकल 370 पर मोदी सरकार के इस कदम का विरोध किया है। साथ ही कश्मीर के मौजूदा हालात पर चर्चा करने के लिए पाकिस्तान की संसद ने मंगलवार को संयुक्त सत्र भी बुलाया है।

जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तानी एक्ट्रेस माहिरा ने कहा-जन्नत जल रही है, हम खामोशी से आंसू बहा रहे हैं, हुईं ट्रोल

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय द्वारा जारी किए गए एक बयान कहा गया है कि, ‘संयुक्त राष्ट्र सिक्योरिटी काउंसिल (UNSC) में जम्मू-कश्मीर की स्थिति को विवादास्पद माना गया है। लिहाजा भारत सरकार का ये एकतरफा फैसला है और ये फैसला जम्मू-कश्मीर और पाकिस्तान के लोगों को स्वीकार नहीं है। इस अंतरराष्ट्रीय विवाद में एक पार्टी होने के नाते पाकिस्तान इन अवैध फैसलों के खिलाफ हर आवश्यक कदम उठाएगा। पाकिस्तान कश्मीर के प्रति अपनी प्रतिबद्धता फिर जताता है। कश्मीर के राजनीतिक, लोकतांत्रिक और नैतिक विकास के लिए हम लड़ते रहेंगे।’

जम्‍मू-कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटाने पर भड़कीं महबूबा, कहा- आज भारतीय लोकतंत्र का सबसे काला दिन

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के चेयरमैन और नेता विपक्ष शहबाज शरीफ ने इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, ‘कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म करना असंवैधानिक है। ये संयुक्त राष्ट्र के प्रति ‘एक तरह से राजद्रोह’ है, जिसे किसी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जा सकता।’ उन्होंने आगे यह भी कहा कि, ‘भारत में मोदी सरकार ने आर्टिकल 370 को हटाने को जो फैसला लिया है, वो सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन भी है।’ पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के बेटे बिलावल भुट्टो ने इस मामले में कहा कि, ‘कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म करके चरमपंथी भारत सरकार ने अपने इरादे साफ कर दिए हैं।’

क्या है धारा 370 जिसे लेकर जम्मू-कश्मीर में मचा है बवाल, जानिए राज्य को इससे मिलती हैं कौन-सी विशेष सुविधाएं?

बता दें गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर के लिए कई बदलाव की पेशकश की। उन्होंने राज्य से आर्टिकल 370 हटाने की सिफारिश की। इस बदलाव को राष्ट्रपति ने भी मंजूरी दे दी थी। राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद आर्टिकल 370 के सभी खंड लागू नहीं होंगे। साथ ही जम्मू-कश्मीर को भी केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया। इसके अलावा लद्दाख को भी अलग राज्य घोषित कर दिया गया है।

ये भी पढ़े… 

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, आर्टिकल 370 में बदलाव, 35A हटा, अब जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश

क्या है आर्टिकल 35A? इसके हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में आएंगे ये बदलाव

 

Related posts