लोकसभा में बोले पीएम मोदी- अगर पिछली सरकार की तर्ज पर चलते तो न मंदिर बनता न जम्मू-कश्मीर से 370 हटता

narendra modi

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट सत्र के दौरान गुरुवार को लोकसभा में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि, ‘ये सरकार तेज गति से काम कर ही है। तेज गति की वजह से 37 करोड़ लोगों के बैंक खाते खुले, 11 करोड़ लोगों को शौचालय मिला, 13 करोड़ परिवारों को रसोई गैस मिला।’



प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए कहा कि, ‘इस देश में सिर्फ सरकार ही नहीं बदली है सरोकार भी बदला है। अगर ये भी सरकार पिछली सरकार के तर्ज पर चलती तो जम्मू-कश्मीर से 370 नहीं हटता। अगर आपके (कांग्रेस) बनाए गए रास्ते पर चलते तो आज भी मंदिर विवाद ही रहता। बांग्लादेश से सीमा विवाद नहीं सुलझता।’ पीएम ने आगे कहा कि, ‘अगर हम कांग्रेस के रास्ते चलते तो 50 साल बाद भी शत्रु संपत्ति कानून अटका रहता। 35 साल बाद भी देशी लड़ाकू विमान नहीं बनता। 20 साल बाद भी CDS की नियुक्ति नहीं होती।’ पीएम ने कहा कि, ‘अगर आपके रास्ते पर चलते तो तीन तलाक नहीं हटता, 370 नहीं हट पाता। आपकी ही सोच अगर होती, तो करतापुर साहिब कोरिडोर कभी नहीं बन पाता।’


पीएम ने कहा कि, ‘कोई इस बात से इंकार नहीं कर सकता कि देश चुनौतियों से लोहा लेने के लिए हर पल कोशिश करता रहा है। कभी कभी चुनौतियों की तरफ न देखने की आदतें भी देश ने देखी है, चुनौतियों को चुनने का सामर्थ्य नहीं, ऐसे लोगों को भी देखा।’

इस दौरान पीएम मोदी ने कवि सर्वेश्वर दयाल सक्सेना की कुछ पंक्तियां भी पढ़ी- ‘लीक पर वे चलें जिनके चरण दुर्बल और हारे हैं। हमें तो जो हमारी यात्रा से बने, ऐसे अनिर्मित पथ ही प्यारे हैं।’

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘नॉर्थ ईस्ट में पिछले पांच वर्ष में जो दिल्ली उन्हें दूर लगती थी, आज दिल्ली उनके दरवाजे पर जाकर खड़ी हो गई है। चाहे बिजली की बात हो, रेल की बात हो, हवाई अड्डे की बात हो, मोबाइल कनेक्टिविटी की बात हो, ये सब करने का हमने प्रयास किया है।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ‘किसान सम्मान योजना के तहत उनके खाते में बिना बिचौलिया के 45000 हजार करोड़ रुपए ट्रांसफर किए गए।’ साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन राज्यों के सांसदों को भी संबोधित किया, जहां किसान सम्मान योजना लागू नहीं है। पीएम ने कहा कि, ‘क्या इन राज्यों के किसानों को इसका लाभ नहीं मिलना चाहिए। लेकिन राजनीति की वजह से किसानों को इसका फायदा नहीं मिल पा रहा है।’

प्रधानमंत्री बोले, ‘जब विपक्ष मुझसे पूछता है कि ये काम क्यों नहीं हुआ है, तो इसे मैं आलोचना नहीं समझता हूं, बल्कि इसे मैं आलोचना मानता हूं। क्योंकि आपने विश्वास जताया है और आपने ये समझा है कि करेगा तो यही करेगा। मैं सब कुछ करूंगा, लेकिन एक काम नहीं करूंगा, और वो काम ये है कि मैं आपकी बेरोजगारी कभी खत्म नहीं करूंगा।’

प्रधानमंत्री ने महंगाई का जिक्र करते हुए कहा कि, ‘हमने महंगाई को नियंत्रण में रखा है। इस पर विपक्ष के सदस्यों ने हंगामा किया। हमने वित्तीय घाटे को काबू में रखा है। मैक्रो इकोनॉमिक स्तर पर स्थिरता है। हम निवेशकों का विश्वास बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। देश की अर्थव्यस्था मजबूत हो इसके लिए हमने कई कदम उठाए हैं।’

प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी के भी एक बयान का जिक्र किया। दरअसल, राहुल ने बुधवार को आयोजित एक चुनावी रैली में कहा था कि, ‘6 महीने बाद देश के युवा पीएम मोदी को डंडे मारेंगे।’ पीएम ने इसका जवाब देते हुए कहा कि, ‘मैंने भी तय कर लिया कि सूर्यनमस्कार की संख्या बढ़ा दूंगा। ताकि मेरी पीठ को मार झेलने की सहनशक्ति बढ़ जाए।’

ये भी पढ़े…

युवा आक्रोश रैली में मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी, कहा- 1 साल में 1 करोड़ युवाओं ने रोजगार खोया

कभी राहुल गांधी को PM बनते देखना चाहती थीं दीपिका पादुकोण, पुराना Video हो रहा वायरल

राहुल गांधी ने रेप को लेकर दिया ऐसा बयान, महिला सांसदों ने किया हंगामा, अनिश्चित काल के लिए कार्यवाही स्थगित

Related posts